close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बढ़ती गर्मी से जैव प्रजातियां बेघर

वैज्ञानिकों के एक अध्ययन में पहली बार वर्तमान जलवायु, जलवायु परिवर्तन और पौधों एवं जानवरों के आवास में वैश्विक स्तर पर हो रही क्षति के बीच संबंध स्थापित किया गया है।

मेलबर्न: वैज्ञानिकों के एक अध्ययन में पहली बार वर्तमान जलवायु, जलवायु परिवर्तन और पौधों एवं जानवरों के आवास में वैश्विक स्तर पर हो रही क्षति के बीच संबंध स्थापित किया गया है।

 

ग्लोबल चेंज बायोलाजी पत्रिका में प्रकाशित एक रिपोर्ट में क्वींसटन विश्वविद्यालय के एक अनुसंधानकर्ता दल ने कहा कि वैसे क्षेत्रों में जहां उच्च तापमान रहता है और जहां औसतन बारिश पिछले कुछ समय से घटी है, वहां इन जैव प्रजातियों के आवास पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा है।

 

दल के प्रमुख क्रिस्टल मैंटिका-प्रिंगल ने कहा, ‘बढ़ती मानव जनसंख्या के कारण दुनिया भर में जैव प्रजातियों के आवास पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा है। इसके कारण आने वाले समय में कई प्रजातियों पर बहुत बुरा असर पड़ सकता है। पिछले कुछ समय से इन कुछ प्रजातियों की कम होती संख्या का यह प्रमुख कारण रहा है।’  (एजेंसी)