'अमेरिका-पाक का साझा शत्रु हक्कानी नेटवर्क'

तालिबान से जुड़े हक्कानी नेटवर्क को ‘साझा दुश्मन’ बताते हुए अमेरिका ने पाकिस्तान को साफ कर दिया है कि अफगानिस्तान में तैनात गठबंधन बल पर हमले के लिए जिम्मेदार आतंकवादी संगठनों से निपटने के लिए साथ मिलकर काम करना होगा।

वाशिंगटन : तालिबान से जुड़े हक्कानी नेटवर्क को ‘साझा दुश्मन’ बताते हुए अमेरिका ने पाकिस्तान को साफ कर दिया है कि अफगानिस्तान में तैनात गठबंधन बल पर हमले के लिए जिम्मेदार आतंकवादी संगठनों से निपटने के लिए साथ मिलकर काम करना होगा।
अमेरिकी रक्षा मंत्री लियोन पनेटा ने कहा कि पाकिस्तान भी आतंकवाद का शिकार है और उन्होंने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) द्वारा 17 पाकिस्तानी सैनिकों की हत्या किए जाने का हवाला दिया।
उन्होंने कहा, उन्होंने गश्त कर रहे 17 पाकिस्तानियों को टीटीपी के हाथों गवांया और हर दिन वे भी आतंकवाद का शिकार हो रहे हैं।
हक्कानी नेटवर्क के बारे में सवाल का जवाब देते हुए शुक्रवार को पेंटागन में संवाददाताओं से बातचीत में पनेटा ने कहा, इसलिए हमारा एक साझा शत्रु है। अगर साझा शत्रु से लड़ने के लिए हम साथ काम कर सके तो इसका कुछ मतलब होगा।
उन्होंने कहा कि हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई करना इस्लामाबाद के हित में है।
पाकिस्तान द्वारा नाटो आपूर्ति मार्गों को बंद करने पर पनेटा ने कहा कि जमीनी मार्ग को खोलने के संबंध में अमेरिका की पाकिस्तान के साथ चर्चा जारी है। (एजेंसी)