अस्पताल में भर्ती मंडेला का हालत अब भी गंभीर

दक्षिण अफ्रीका के रंगभेद विरोधी नेता नेल्सन मंडेला फेफड़ों के संक्रमण के कारण अब भी अपनी जिन्दगी की लड़ाई लड़ रहे हैं। पिछले एक महीने से अस्पताल में भर्ती पूर्व राष्ट्रपति की हालत अब गंभीर बनी हुई है।

जोहानिसबर्ग : दक्षिण अफ्रीका के रंगभेद विरोधी नेता नेल्सन मंडेला फेफड़ों के संक्रमण के कारण अब भी अपनी जिन्दगी की लड़ाई लड़ रहे हैं । पिछले एक महीने से अस्पताल में भर्ती पूर्व राष्ट्रपति की हालत अब गंभीर बनी हुई है।
पिछले वर्ष दिसंबर से अभी तक 94 वर्षीय मंडेला चौथी बार अस्पताल में भर्ती हुए हैं । आज उन्हें अस्पताल आए 30 दिन हो गए । प्रिटोरिया के मेडी-क्लिनिक हार्ट हॉस्पिटल में भर्ती मंडेला के स्वास्थ्य बारे में आज कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है। उनकी पत्नी ग्रेसा मशेल अस्पताल में मौजूद हैं और अपने पति को भावनात्मक रूप से समर्थन दे रही हैं।
उनके व्यक्तिगत सहायक जेल्दा ला ग्रांजे ने कहा, ‘मदीबा हमेशा यह आश्वासन चाहते हैं कि वह (ग्रासा) उनके पास मौजूद रहें। वह ना सिर्फ उन्हें बल्कि हममें से अन्य लोगों को भी भावनात्मक सहायता देती हैं।’ मंडेला काफी समय से फेफड़ों में संक्रमण से पीड़ित हैं। वह रोबेन द्वीप पर जब राजनीतिक कैदी थे तभी उन्हें यह समस्या हुई थी। मंडेला को कारावास में क्षय रोग हो गया था।
गत मार्च में एक रात को मंडेला की अस्पताल में जांच कराई गई थीं जिसे ‘नियमित जांच’ करार दिया गया था। मंडेला को आखिरी बार जुलाई 2010 में जोहानसबर्ग में फीफा विश्वकप के दौरान सार्वजनिक तौर पर देखा गया था। मंडेला दक्षिण अफ्रीका के पहले अश्वेत राष्ट्रपति हैं। वह 1994 से 1999 तक देश के राष्ट्रपति रहे। उन्हें रंगभेद की नीति के खिलाफ और लोकतंत्र के लिए संघर्ष का नेतृत्व करने के कारण राष्ट्रपिता माना जाता है। (एजेंसी)