close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ओसामा मिशन पर लिखी पुस्तक पर होगी कार्रवाई

पेंटागन ने पाकिस्तान के ऐबटाबाद में मई 2011 में हमला करके खूंखार आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को मार गिराने की घटना पर पुस्तक लिखने वाले नौसेना के पूर्व सील कमांडो को कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है।

वाशिंगटन : पेंटागन ने पाकिस्तान के ऐबटाबाद में मई 2011 में हमला करके खूंखार आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को मार गिराने की घटना पर पुस्तक लिखने वाले नौसेना के पूर्व सील कमांडो को कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है।
पेंटागन ने कहा कि इस अधिकारी ने खुफिया सूचनाओं का खुलासा नहीं करने संबंधी समझौते का उल्लंघन किया है।
पुस्तक ‘नो इजी डे’ का चार सितंबर को विमोचन होना है। पश्चिमी मीडिया में इस पुस्तक के कुछ अंशों को प्रकाशित किया गया है जिससे ओसामा को मार गिराने के अभियान पर अमेरिका में विवाद पैदा हो गया है।
पेंटागन के शीर्ष अधिवक्ता जे चार्ल्स जानसन ने नौसेन्य सील कमांडो को लिखे पत्र में कहा कि रक्षा विभाग के फैसले के तहत आपने अपने गुप्त समझौते का उल्लंघन किया है। आपकी पुस्तक का और सार्वजनिक होना समझौते का और उल्लंघन होगा।
यह पुस्तक मार्क ओवेन के छद्म नाम से लिखी गई है जबकि लेखक का वास्तविक नाम मैट बिसान्नेट है।
तीस अगस्त को लिखे गए अपने पत्र में जॉनसन ने कहा कि पेंटागन उसके पास मौजूद कानूनी विकल्प सहित सभी विकल्पों पर विचार कर रहा है।
पत्र में कहा गया कि रक्षा मंत्रालय ने ‘नो ईजी डे’ नाम से लिखी पुस्तक की अग्रिम कापी हासिल की है और उसकी समीक्षा की गई है।
इस अधिवक्ता ने कहा कि नौसेन्य सील कमांडो ने 24 जनवरी 2007 को दो गुप्त समझौतों पर हस्ताक्षर किए थे जिसके तहत उन्हें कभी भी खुफिया जानकारियों का खुलासा नहीं करना है। (एजेंसी)