ग्वाटेमाला में शक्तिशाली भूकंप, 48 की मौत

ग्वाटेमाला में 7. 4 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप आया, जिसमें दो प्रांतों में कम से कम 48 लोगों के मारे जाने की खबर है। भूकंप के कारण कई इलाकों में भारी भूस्खलन हुआ और मैक्सिको की सीमा से लगते इस शांत पहाड़ी कस्बे में ग्रामीणों में आतंक फैल गया। भूकंप के बाद सौ लोग लापता हैं तथा सैंकड़ों घायल हुए हैं।

सेन मार्कोस (ग्वाटेमाला): ग्वाटेमाला में 7. 4 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप आया, जिसमें दो प्रांतों में कम से कम 48 लोगों के मारे जाने की खबर है। भूकंप के कारण कई इलाकों में भारी भूस्खलन हुआ और मैक्सिको की सीमा से लगते इस शांत पहाड़ी कस्बे में ग्रामीणों में आतंक फैल गया। भूकंप के बाद सौ लोग लापता हैं तथा सैंकड़ों घायल हुए हैं।
भूकंप स्थानीय समयानुसार दस बजकर 35 मिनट पर आया जिस समय लोग अपने कामकाज में लगे थे। ग्वाटेमाला के 22 प्रांतों में से केवल एक को छोड़कर बाकी सभी प्रांतों में भूकंप से नुकसान होने की खबर है। भूकंप के झटके 600 मील दूर मैक्सिको सिटी तक महसूस किए गए।
राष्ट्रपति ओतो पेरेज मोलिना ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि सेन मार्कोस में 40 लोग मारे गए हैं तथा समीपवर्ती प्रांत क्वेत्जालतेनगो में भी आठ लोगों के मारे जाने की सूचना है। सेन मार्कोस में 30 से अधिक घर भूकंप के चलते ढह गए और यहां सर्वाधिक नुकसान हुआ है।
शहर के वाणिज्यिक सेंटर में रेत के नीचे सात लोगों के जिंदा दबे होने की जानकारी मिलने पर दमकलकर्मियों , पुलिस और ग्रामीणों समेत 300 से अधिक लोगों ने वहां गहरी खुदाई की। रेत के नीचे एक छह साल का बच्चा भी दब गया था जो अपने दादा के साथ वहां काम कर रहा था। बच्चे की 42 वर्षीय मां फ्रांसिसिया रामीरेज बदहवास सी चिल्ला रही थीं कि मुझे मेरा जियोवानी चाहिए। मुझे मेरे बेटे को देखने दो। वह मरा नहीं है, उसे बाहर निकालो। उसने बताया कि बच्चे का पिता अमेरिका चला गया है और उस तक पहुंचने का कोई रास्ता नहीं है। (एजेंसी)