close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाक को दहलाना चाहता था ओसामा

अमेरिकी कार्रवाई में अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद उस जगह से मिले दस्तावेज इस बात की तरफ इशारा करते हैं कि ओसामा ने पाकिस्तान में अंधाधुंध हमले करने की योजना बनाई थी।

इस्लामाबाद : अमेरिकी कार्रवाई में अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद उस जगह से मिले दस्तावेज इस बात की तरफ इशारा करते हैं कि ओसामा ने पाकिस्तान में अंधाधुंध हमले करने की योजना बनाई थी। गौरतलब है कि पाकिस्तान के एबटाबाद शहर स्थित एक परिसर में रह रहा लादेन पिछले साल दो मई को हुई अमेरिकी कार्रवाई में मारा गया था।

 

डॉन अखबार ने अपने सूत्रों के हवाले से बताया कि दोनों देशों के संबंध फिर से बहाल करने के लिए हुई अधिकारियों की बैठक में अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए ने इसकी जानकारी दी थी। अखबार की रिपोर्ट में कहा गया है कि सीआईए से मिली जानकारी के अनुसार मारे जाने से पहले लादेन ने अयमान अल-जवाहिरी और संगठन के अन्य शीर्ष आतंकियों के साथ मिल कर पाकिस्तान की धरती पर कई हमले करने की योजना बनाई थी। हालांकि रिपोर्ट में इस जानकारी के बारे में परस्पर विरोधी खबरें मिलने की भी बात कही गई है।

 

दोनों देशों के अधिकारियों की बैठक में शामिल एक व्यक्ति ने नाम जाहिर किए बगैर बताया कि सीआईए के उपनिदेशक माइकल मरोल ने पाकिस्तानी अधिकारियों को ये दस्तावेज सौंपे। दूसरी तरफ एक अन्य व्यक्ति ने बताया कि अमेरिका ने इसके बारे में सिर्फ छोटी सी जानकारी दी और इस गुत्थी को सुलझाने लायक विस्तृत जानकारी नहीं दी। रिपोर्ट में कहा गया कि इससे ये स्पष्ट नहीं होता कि सीआईए ने पाकिस्तान में अलकायदा के नेटवर्क का पता लगाने या फिर दोनों देशों के बीच जरूरी आपसी विश्वास को फिर से बहाल करने के इरादे से ये जानकारी साझा की।

 

गौरतलब है कि पाकिस्तान स्थित अमेरिकी दूतावास ने कल एक विशेष संदेश जारी कर दो मई को ओसामा की पहली बरसी के मौके पर पाकिस्तान में अपने राजनयिकों और अन्य नागरिकों को सतर्क रहने को कहा है।

(एजेंसी)