पाक परमाणु कार्यक्रम पर भारत चिंतित

सियोल में परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन से ठीक पहले भारत ने पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रमों की सुरक्षा को लेकर गहरी चिंता जताई है।

सियोल : सियोल में परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन से ठीक पहले भारत ने पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रमों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताते हुए कहा है कि उसे अपने पड़ोसी देश पर इस बात को लेकर बहुत कम भरोसा है कि वह अपने परमाणु संपत्तियों की सुरक्षा करने में सक्षम है।

 

पाकिस्तान में परमाणु सामग्री की सुरक्षा के बारे में सवाल करने पर सूत्रों ने बताया, ‘हमें इस बात पर बहुत कम भरोसा है कि उनका परमाणु कार्यक्रम सुरक्षित है और सुरक्षित बना रहेगा।’ यहां सोमवार से शुरू हो रहे परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन में भारत का मुख्य ध्यान ‘आंतरिक खतरों’ और क्षमता (परमाणु कार्यक्रम की सुरक्षा की क्षमता) को बढ़ाने पर होगा ।

 

पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रमों के बारे में बात करते हुए सू़त्रों ने बताया, ‘वास्तविक समस्या आंतरिक खतरा है।’ सूत्रों ने चिंता व्यक्त की कि आण्विक सामग्री आतंकवादियों के हाथ लग सकता है जो इसका उपयोग खतरनाक बम बनाने में कर सकते हैं। फुकुशिमा दुर्घटना के बाद परमाणु सुरक्षा को लेकर चिंताएं काफी बढ़ गयी हैं और अधिकारियों को डर है कि अगर उचित कदम नहीं उठाए गए तो ऐसे क्षतिग्रस्त संयंत्रों के आण्विक पदार्थ खतरनाक हाथों में पड़ सकते हैं।

 

उम्मीद की जा रही है कि शिखर सम्मेलन से पहले प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह परमाणु सुरक्षा के लिए उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी देंगे। इसके अलावा सम्मेलन से इतर प्रधानमंत्री के पाकिस्तान के प्रधामंत्री युसूफ रजा गिलानी से भी मिलने की संभावना है। अधिकारियों ने अभी तक सिंह और गिलानी के बैठक की पुष्टि नहीं की है लेकिन मंगलवार को दोनों ज्यादातर समय एक ही कमरे में रहेंगे। (एजेंसी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.