सूरत से 320 किमी दूर दफन है लादेन?

अमेरिका के एक खोजी ने उस वास्तविक स्थान को ढूढ़ निकालने का दावा किया है, जहां अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को समुद्र में दफन किया गया था। यह स्थान भारत में गुजरात तट से लगभग 320 किलोमीटर की दूरी पर है।

लंदन : अमेरिका के एक खोजी ने उस वास्तविक स्थान को ढूढ़ निकालने का दावा किया है, जहां अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को समुद्र में दफन किया गया था। यह स्थान भारत में गुजरात तट से लगभग 320 किलोमीटर की दूरी पर है।

 

बिल वारेन (60) ने अरब सागर में उस स्थान की पहचान करने का दावा किया है, जहां अमेरिकी बलों ने लादेन को पाकिस्तान के एबटाबाद स्थित उसके ठिकाने पर मार गिराने के बाद उसके शव को दफन कर दिया था। वारेन ने कहा कि लादेन के शव को गुजरात में सूरत तट से लगभग 320 किलोमीटर दूर समुद्र में फेंक दिया गया था।

 

समाचार पत्र 'डेली मेल' द्वारा शुक्रवार को जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, वारेन ने कहा है कि पेंटागन के एक सूत्र द्वारा उसे उपलब्ध कराए गए उपग्रह से प्राप्त चित्रों का अध्ययन करने के बाद वह उस स्थान को निर्दिष्ट कर सकता है।

 

वारेन का दावा है कि लादेन का शव समुद्र में अपने स्थान से हटा नहीं है, क्योंकि अमेरिकी नौ सेना ने उसके शव के साथ काफी वजन जोड़कर उसे समुद्र में डूबोया था। वारेन लादेन के शव को बरामद करने का अपना मिशन जून में शुरू करने वाला है।  (एजेंसी)