‘खतरे के कगार पर’ उत्तर कोरिया : चक हेगल

अमेरिका के रक्षा मंत्री चक हेगल ने जोर देकर कहा कि उनका देश उत्तर कोरिया के किसी भी दुस्साहस का जवाब देने के लिए पूरी तरह से तैयार है और चेतावनी दी कि दुनिया से अलग थलग पड़ा यह देश ‘खतरे के कगार पर’ पहुंच गया है।

वाशिंगटन : अमेरिका के रक्षा मंत्री चक हेगल ने आज जोर देकर कहा कि उनका देश उत्तर कोरिया के किसी भी दुस्साहस का जवाब देने के लिये पूरी तरह से तैयार है और चेतावनी दी कि दुनिया से अलग थलग पड़ा यह देश ‘खतरे के कगार पर’ पहुंच गया है ।
हेगल ने ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टॉफ के अध्यक्ष आर्मी जनरल मार्टिन डेम्पसे के साथ कहा, ‘उत्तर कोरिया अपने युद्धप्रिय बयानों और कदमों के साथ खतरे के कगार पर पहुंच गया है। उसके कदम और बयानों ने भड़काऊ स्थिति को शांत करने में कोई मदद नहीं की है।’ हेगल का बयान ऐसे समय पर आया है जब ऐसी खबरें आई हैं कि उत्तर कोरिया ने अपने दो मिसाइल प्रक्षेपकों को देश के पूर्वी तट के पास तैनात कर दिया गया है।
हेगल ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘हमारे पास उत्तर कोरिया के खतरे से अपने देश की सुरक्षा, देश के हितों और हमारे सहयोगियों की सुरक्षा के लिये हरेक क्षमता है।’ हेगल ने कहा कि उत्तर कोरिया द्वारा अमेरिका और उसके हितों तथा सहयोगियों के खिलाफ उठाये गए किसी भी कदम से सुरक्षा के लिए अमेरिका के पास ‘प्रत्येक क्षमता’ है ।
हेगल ने उत्तर कोरिया के युवा नेता किम जोंग उन को ऐसा व्यक्ति करार दिया जिसके बारे में कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘वह देश ऐसा है जिसके बारे में अनुमान नहीं लगाया जा सकता है।’ उधर डेम्पसे ने कहा कि सरकार को ‘इस सबसे खराब मामले’ को स्वीकार करना होगा क्योंकि उत्तर कोरिया ने इससे पहले कई सफल मिसाइल परीक्षण किए हैं। (एजेंसी)