अंधराष्ट्रवाद से बचने की जरूरत : मनीष तिवारी

नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना द्वारा एक भारतीय सैनिक का सिर काटे जाने की घटना को लेकर भाजपा के उग्र बयान के बाद सरकार ने मंगलवार को आगाह किया कि हमारी प्रतिक्रियाएं ‘अंधराष्ट्रवाद’ की हद तक नहीं चली जाएं।

नई दिल्ली : नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना द्वारा एक भारतीय सैनिक का सिर काटे जाने की घटना को लेकर भाजपा के उग्र बयान के बाद सरकार ने मंगलवार को आगाह किया कि हमारी प्रतिक्रियाएं ‘अंधराष्ट्रवाद’ की हद तक नहीं चली जाएं।
सूचना और प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने ट्विटर पर कहा,‘पेशेवर सेनाएं समझौतों के नियमों का पालन करती हैं। उल्लंघनों पर रणनीतिक जवाब के जरिए जीत पाई जाती है, न कि अंधराष्ट्रवाद से।’
उनकी टिप्पणी भाजपा नेता सुषमा स्वराज के कड़े बयान के एक दिन बाद आई है। सुषमा ने कहा कि यदि पाकिस्तान शहीद सैनिक हेमराज का सिर नहीं लौटाता है तो भारत को पाकिस्तान से कम से कम 10 सिर लेकर आने चाहिए।
पार्टी अध्यक्ष नितिन गडकरी और वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह के साथ कल हेमराज के परिवार से मुलाकात के बाद सुषमा ने कहा था, ‘सवाल यह है: क्या हम बिना जवाब दिए बैठेंगे और वार्ता में शामिल होंगे? इसीलिए हमने सरकार से कठोर कदम उठाने को कहा है।’ (एजेंसी)