close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली गैंगरेप : प्रधानाध्यापक ने आरोपी को नाबालिग बताया

दिल्ली में सामूहिक बलात्कार की घिनौनी वारदात के मामले में पकड़े गए एक आरोपी के स्कूल के प्रधानाध्यापक ने कहा है कि लड़के की उम्र अभी 17 साल और छह महीने है।

नई दिल्ली : दिल्ली में सामूहिक बलात्कार की घिनौनी वारदात के मामले में पकड़े गए एक आरोपी के स्कूल के प्रधानाध्यापक ने कहा है कि लड़के की उम्र अभी 17 साल और छह महीने है।
यह आरोपी उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले के भवानीपुर स्थित एक स्कूल का छात्र रह चुका है। उसने स्कूल में महज तीसरी कक्षा तक पढ़ाई की है। स्कूल के मौजूदा और पूर्व प्रधानाध्यपकों ने बाल न्याय बोर्ड के समक्ष मंगलवार को कहा कि वे लड़के की पहचान नहीं कर सकते लेकिन इतना जानते हैं कि उसने 2002 में स्कूल में दाखिला लिया था। बोर्ड की अध्यक्षता प्रधान मजिस्ट्रेट गीतांजलि गोयल कर रही थीं।
पूर्व प्रधानाध्यापक ने कहा कि दाखिले के समय लड़के के पिता उनके पास आए थे और कहा था कि उसका जन्म चार जून, 1995 का है।
उन्होंने आगे कहा कि दाखिले के समय वे बच्चों के अभिभावकों से जन्म प्रमाण पत्र की मांग नहीं करते।
प्रधानाध्यापक ने कहा,‘हम इसे आधिकारिक रिकार्ड के तौर पर लेते हैं आगे के सत्रों में इसी का अनुसरण किया जाता है। ऐसे में कोई संदेह नहीं किया जा सकता।’
स्कूल के मौजूदा और पूर्व प्रधानाध्यपकों के बयान दर्ज कराने के बाद अदालत (बोर्ड) ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 28 जनवरी की तारीख मुकर्रर कर दी।
आरोपी को कानूनी मदद मुहैया करा रहे वकील राजेश तिवारी ने पत्रकारों से कहा कि अगली सुनवाई पर बोर्ड किशोर की उम्र पर जिरह सुनेगा और फिर अपना आदेश देगा कि वह बालिग है या नाबालिग।
बीते 16 दिसंबर को दिल्ली में चलती बस में 23 साल की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था। इसके बाद उसके साथ हैवानियत का व्यवहार किया गया था। जिंदगी और मौत के बीच लंबा संघर्ष करने के बाद 29 दिसंबर को इस लड़की ने सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में अंतिम सांस ली थी।
इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनमें से एक के नाबालिग होने की बात की जा रही है। (एजेंसी)