पाकिस्तानी कैदी सनाउल्लाह रंजय की हालत अभी नाजुक

जम्मू जेल में साथी कैदी के साथ झगड़े में घायल पाकिस्तानी कैदी सनाउल्लाह रंजय की हालत अभी नाजुक बनी हुई है। यहां पीजीआईएमईआर ने यह जानकारी दी।

चंडीगढ़ : जम्मू जेल में साथी कैदी के साथ झगड़े में घायल पाकिस्तानी कैदी सनाउल्लाह रंजय की हालत अभी नाजुक बनी हुई है। यहां पीजीआईएमईआर ने यह जानकारी दी। अस्पताल सूत्रों ने बताया कि कैदी गहरे कोमा में है और वेंटिलेटर पर है। सनाउल्लाह को शुक्रवार शाम को जम्मू से यहां के पोस्ट ग्रेजुएशन इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च पहुंचाया गया था। 52 वर्षीय सनाउल्लाह का अस्पताल के इंटेसिव केयर यूनिट में डाक्टरों के एक दल द्वारा इलाज किया जा रहा है। इनमें एक न्यूरोसर्जन भी है।
पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारियों का एक दल कल संस्थान में सनाउल्लाह को देखने आया। सनाउल्लाह की ताजा हालत की जानकारी हासिल करने के लिए दल के आज फिर डाक्टरों से मिलने की उम्मीद है। संस्थान ने कल रात कैदी के बारे में जानकारी देते हुए बताया था कि कैदी को पाचन संबंधी परेशानियां और असामान्य रक्त प्रवाह जैसी दिक्कतें हैं, जिनका संबद्ध विशेषज्ञ डाक्टरों द्वारा इलाज किया जा रहा है और उसकी यह परेशानियां धीरे धीरे कम हो रही हैं, हालांकि अभी सामान्य स्थिति में नहीं हैं। उसका रक्तचाप कम हो रहा है, जिसे ठीक रखने के लिए तीसरा वेसोपेसर लगाया गया।
जम्मू अस्पताल से यहां लाए जाने के बाद सनाउल्लाह की अस्पताल के न्यूरोसर्जन ने जांच की और उसके सिर में बड़े फ्रैक्चर के साथ चोटें देखीं। सीटी स्कैन में भी चोट के कारण मस्तिष्क को आघात पहुंचने का पता चला। सनाउल्लाह को 1999 में गिरफ्तार किया गया था और उसे टाडा प्रावधानों में उम्र कैद की सजा सुनाई गई थी। कैदियों के झगड़े के मामले में जेल के दो अधिकारियों को जम्मू कश्मीर सरकार ने निलंबित कर दिया । इनमें जेल अधीक्षक रजनी सहगल शामिल हैं। (एजेंसी)