बंसल और अश्विनी दोनों मंत्री इस्तीफा दें : भाजपा

भाजपा ने रविवार को कहा कि वह केंद्रीय मंत्रियों अश्विनी कुमार और पवन कुमार बंसल के इस्तीफे पर जोर देती रहेगी। पार्टी प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के इस्तीफे पर भी अड़ी हुई है।

भोपाल : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने रविवार को कहा कि वह केंद्रीय मंत्रियों अश्विनी कुमार और पवन कुमार बंसल के इस्तीफे पर जोर देती रहेगी। पार्टी प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के इस्तीफे पर भी अड़ी हुई है। केंद्रीय कानून मंत्री अश्विनी कुमार कोयला ब्लॉक आवंटन पर सर्वोच्च न्यायालय में पेश की जाने वाली सीबीआई रिपोर्ट को पुनरीक्षित किए जाने को लेकर विपक्ष के निशाने पर हैं तो रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी से 90 लाख रुपये की रिश्वत लेने के आरोप में अपने भांजे की गिरफ्तारी के बाद रेल मंत्री पवन कुमार बंसल की बलि लेने पर विपक्ष अमादा है।
भाजपा नेता रवि शंकर प्रसाद ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, `हम भारत की जनता की तरफ से यह मांग रख रहे हैं। चाहे वे पवन बंसल हों या अश्विनी कुमार, वे इन्हें बचाने की कोशिश इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उन्हें पता है कि जैसे ही ये मंत्री बाहर होंगे तो प्रधानमंत्री सीधे निशाने पर होंगे।` उन्होंने सहयोगी दलों के भ्रष्टाचार के मामले सामने आने पर दोहरा मापदंड अपनाने के लिए कांग्रेस की भर्त्सना की।
प्रसाद ने सवाल किया, `क्या भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस और सहयोगी दलों के मंत्रियों के लिए उनका दो तरह का मापदंड नहीं है? ए. राजा (डीएमके नेता और पूर्व संचार मंत्री) से इस्तीफा लिया गया और यह सही भी था, लेकिन कांग्रेस का यह दोहरा मापदंड क्यों है?` प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर सीधा हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, `प्रधानमंत्री के बारे में कहा जाता है कि वे बहुत बड़े अर्थशास्त्री और ईमानदार व्यक्ति हैं। हम देश की आर्थिक हालत तो ही देख रहे हैं और उनके शासनकाल में भारत अत्यंत भ्रष्ट देश क्यों हो गया है?` उन्होंने कहा, `इस सरकार ने नैतिकता की सारी हदें पार कर ली हैं।` (एजेंसी)