मुलायम के खिलाफ बेनी की टिप्पणी पर हंगामा

मुलायम सिंह यादव के खिलाफ केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा द्वारा की गयी टिप्पणी को लेकर लोकसभा में सोमवार को सपा सदस्यों ने हंगामा और नारेबाजी की तथा साथ ही केंद्रीय मंत्री को मंत्रिमंडल से बर्खास्‍त किए जाने की मांग की।

नई दिल्ली : मुलायम सिंह यादव के खिलाफ केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा द्वारा की गयी टिप्पणी को लेकर लोकसभा में सोमवार को सपा सदस्यों ने हंगामा और नारेबाजी की तथा साथ ही केंद्रीय मंत्री को मंत्रिमंडल से बर्खास्‍त किए जाने की मांग की।
सदन में शून्यकाल की कार्यवाही शुरू होते ही सपा सदस्य शैलेन्द्र कुमार ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि वर्मा को अपनी इस कथित टिप्पणी के लिए तुरंत माफी मांगनी चाहिए कि सभी मुसलमान आतंकी हैं। वर्मा ने तत्काल स्पष्ट किया कि उन्होंने इस प्रकार का कोई बयान नहीं दिया है और इसलिए माफी मांगने का कोई सवाल नहीं है। उन्होंने कहा कि मैंने आतंकवाद को किसी धर्म से नहीं जोड़ा है। लेकिन सपा के सदस्य अपनी बात पर अड़े रहे और आसन के समक्ष आकर वर्मा द्वारा माफी मांगे जाने तथा उन्हें मंत्रिमंडल से बख्रास्त किए जाने की मांग करने लगे।
सपा नेता मुलायम सिंह ने इस मुद्दे पर अपनी बात रखते हुए कहा कि कल लखनउ में मुसलमानों का सम्मेलन था जिसमें अनेक मुस्लिम संगठनों के मौलानाओं और उलेमाओं ने देश की तरक्की और आपसी भाईचारे के बारे में सराहनीय भाषण दिए। उन्होंने कहा कि इस सम्मेलन में वह मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित थे और उन्होंने भी मुस्लिम समाज के समक्ष पेश आ रही समस्याओं को उठाया। उन्होंने कहा कि वह अल्पसंख्यकों के हितों की लड़ाई जारी रखेंगे क्योंकि सच्चर आयोग ने भी समुदाय के सामाजिक, आर्थिक पिछड़ेपन के मुद्दे को उठाया है। मुलायम ने यह भी कहा कि देश अब्दुल हमीद (1965 के युद्ध के नायक) और पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम के राष्ट्र के विकास में योगदान को कैसे भूल सकता है। वह (वर्मा) कैसे कह सकते हैं कि मुसलमान आतंकी हैं? सपा नेता ने कहा कि उन्हें माफी मांगनी चाहिए।
आसन के समक्ष सपा सदस्यों की नारेबाजी के बीच वर्मा ने कहा कि मेरे लिए आतंकवाद का कोई धर्म या रंग नहीं है। बाबरी मस्जिद विध्वंस और गोधरा कांड के बाद भड़के दंगे भी आतंकवादी घटनाएं हैं। वर्मा ने कहा कि लेकिन उन्होंने (मुलायम) कल्याण सिंह जैसे उन लोगों से हाथ मिलाया जिन्होंने बाबरी मस्जिद गिरायी थी। उनकी पार्टी ने गुजरात में भाजपा को जिताने में भी मदद की। इसी हंगामे और नारेबाजी के बीच अध्यक्ष ने अन्य सदस्यों को शून्यकाल के तहत अपने मुद्दे उठाने की अनुमति दी लेकिन हंगामा जारी रहने पर कुछ ही देर बाद उन्होंने बैठक दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। (एजेंसी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.