वादे नहीं, गरीबों के लिए काम करती है कांग्रेस: राहुल

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को नरेंद्र मोदी पर परोक्ष हमला करते हुए कहा कि विपक्षी नेता सिर्फ लंबे-चौड़े वादे करते हैं और अमीरों के लिए काम करते हैं, जबकि उनकी पार्टी गरीबों के साथ खड़ी होती है और उन्हें उनके सपनों को साकार बनाने में मदद करने में यकीन रखती है।

बारां (राजस्थान) : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को नरेंद्र मोदी पर परोक्ष हमला करते हुए कहा कि विपक्षी नेता सिर्फ लंबे-चौड़े वादे करते हैं और अमीरों के लिए काम करते हैं, जबकि उनकी पार्टी गरीबों के साथ खड़ी होती है और उन्हें उनके सपनों को साकार बनाने में मदद करने में यकीन रखती है।
राजस्थान के बारां कस्बे में एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल ने खाद्य सुरक्षा विधेयक, भूमि अधिग्रहण विधेयक तथा मनरेगा जैसे संप्रग सरकार के कई कदमों का उल्लेख किया जिन्हें आर्थिक रूप से कमजोर तबकों के उत्थान के लिए उठाया गया है।
भाजपा के प्रधानमंत्री के उम्मीदवार मोदी पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा, ‘लोग आते हैं और लंबे-चौड़े दावे करते हैं। हम लंबे-चौड़े दावे करने में यकीन नहीं करते। हम काम करते हैं। हम चाहते हैं कि आपके बच्चे बड़े सपने देखें। अगर आप सपने नहीं देख पाएंगे तो यह देश आगे भी नहीं बढ़ सकता।’
उन्होंने खाद्य सुरक्षा विधेयक के पारित कराने में तथा मनरेगा को लेकर विपक्षी दलों के कथित प्रतिरोध का उल्लेख करते हुए इन दलों पर हमला बोला और कहा कि ये राजनीतिक दल सिर्फ अमीरों के लिए काम करते हैं।
राहुल ने कहा, ‘जब गरीबों के लिए योजनाओं की बात होती है तो वे लोग पूछते हैं कि पैसा कहां से आएगा। परंतु जब खदानें आवंटित होती हैं और जमीनों का अधिग्रहण होता है तो कोई सवाल नहीं पूछता। यही इन दलों और कांग्रेस के बीच अंतर है।’
राहुल ने कांग्रेस पार्टी के गरीबों के हक में खड़े होने का दावा करते हुए कहा, ‘हमारी राजनीति हमारे सपनों की राजनीति है। वे लोग चाहते हैं कि सिर्फ 500 लोग सपने देखें, हवाई जहाज में सफर करें, कारों में चलें। ये इन लोगों का विचार है। यह हमारी राजनीति नहीं है।’
कांग्रेस के पुराने नारे ‘आधी रोटी खाएंगे, कांग्रेस को लाएंगे’ का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि खाद्य सुरक्षा विधेयक पारित होने के बाद पार्टी ने नया नारा ‘पेट भर के रोटी खाएंगे, कांग्रेस को जिताएंगे’ दिया है।
गरीब किसानों के साथ सहानुभूति प्रकट करते हुए राहुल ने कहा कि बीमारी और कमजोरी सबसे बड़ी वजह है क्योंकि इनकी वजह से लोग दवाओं पर ज्यादा पैसा खर्च कर देते हैं।
उन्होंने संप्रग की सार्वभौमिक स्वास्थ्य बीमा योजना का उल्लेख करते हुए कहा, ‘राजस्थान में सरकार द्वारा दवाएं मुफ्त में दी जा रही हैं। ऐसा पूरा देश में किया जाएगा।’ युवाओं को लुभाने का प्रयास करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘भारत युवाओं का देश है और इनमें से अधिकांश गरीब हैं। इनके बहुत सपने हैं। अगर सरकार इन हाथ नहीं थामती और उन्हें रोजगार एवं भोजन मुहैया नहीं कराती तो वे आगे नहीं बढ़ सकेंगे।’
भूमि अधिग्रहण विधेयक का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, ‘हमने इस कानून को बदला ताकि किसान के बच्चा बड़े सपने दे सके। हमने आपको पंचायती राज व्यवस्था दी है। आपको अपने भविष्य का फैसला खुद करना है। आप इस देश का नेतृत्व कर सकते हैं।’ (एजेंसी)