आरपीएफ जवानों ने दंपति को शताब्दी ट्रेन से फेंका, महिला की मौत

मुजफ्फरनगर में गलती से शताब्दी एक्सप्रेस में चढ़े एक दम्पत्ति को रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के जवानों ने धक्का देकर नीचे गिरा दिया जिससे महिला की ट्रैक पर गिरने से मौत हो गई जबकि उसका पति घायल हो गया।

लखनऊ : रेल बजट पेश किए जाने के अगले दिन बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में रेलगाड़ी में सुरक्षा के दावों की पोल खोलती एक सनसनीखेज घटना सामने आई है। यहां गलती से शताब्दी एक्सप्रेस में चढ़े दम्पत्ति को रेलवे सुरक्षा बल(आरपीएफ) के जवानों ने धक्का देकर नीचे गिरा दिया जिससे महिला की ट्रैक पर गिरने से मौत हो गई जबकि उसका पति घायल हो गया। राजेश्वर त्यागी अपनी पत्नी संतोष के साथ मुजफ्फरनगर से सहारनपुर जा रहे थे। उन्होंने एक्सप्रेस ट्रेन का टिकट भी ले रखा था लेकिन गलती से वह दिल्ली-देहरादून शताब्दी एक्सप्रेस में चढ़ गए।
आरोप है कि मुजफ्फरनगर रेलवे स्टेशन से थोड़ी दूर आगे शताब्दी के कोच में मौजूद आरपीएफ के दो जवानों ने इस दंपति को चलती हुई ट्रेन से धक्का दे कर नीचे गिरा दिया। रेल पटरी पर गिरने की वजह से संतोष देवी की घटनास्थल पर मौत हो गई, वहीं राजेश्वर त्यागी घायल हो गए।
आरोपी आरपीएफ जवानों के खिलाफ मुजफ्फरनगर राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) चौकी में गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया गया है। जीआरपी चौकी प्रभारी पंकज लावण्य ने आईएएनएस को बताया कि आरपीएफ के दो जवानों- राम रामचंद्र और सुभाष कुमार के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर विवेचना कर रही है। (एजेंसी)