पूर्व विधायकों की पेंशन में बढोत्तरी करेंगे अखिलेश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्य विधानमंडल के पूर्व सदस्यों की पेंशन राशि बढ़ाए जाने और वर्ष 2010 के बाद के विधायकों की तरह ही सबको पारिवारिक पेंशन दिए जाने का आश्वासन दिया है।

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्य विधानमंडल के पूर्व सदस्यों की पेंशन राशि बढ़ाए जाने और वर्ष 2010 के बाद के विधायकों की तरह ही सबको पारिवारिक पेंशन दिए जाने का आश्वासन दिया है।
अखिलेश ने राज्य विधानमंडल की स्थापना के 125 वर्ष पूरे होने के मौके पर आयोजित तीन दिवसीय समारोह के दूसरे दिन सोमवार को राज्य विधानसभा मंडप में आयोजित पूर्व विधायकों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘अगले वित्तीय बजट में प्रदेश के सभी पूर्व विधायकों एवं विधानपरिषद सदस्यों की पेंशन बढ़ाए जाने की व्यवस्था की जाएगी।’
विभिन्न वक्ताओं की तरफ से उठाई गई मांगों का संदर्भ लेते हुए उन्होंने कहा, ‘प्रदेश सरकार वर्ष 2010 के बाद के विधायकों को मिलने वाली पारिवारिक पेंशन सुविधा उससे पहले के भी सभी पूर्व विधायकों को उपलब्ध कराने पर विचार करेगी और सम्मानजनक फैसला लिया जाएगा।’
उन्होंने सभी पूर्व विधायकों को मिलने वाले यात्रा कूपन की राशि बढ़ाए जाने पर भी विचार करने का आश्वासन दिया है।
विधानमंडल के उत्तरशती रजत जयंती समारोह के दूसरे दिन आयोजित इसके पूर्व सदस्यों के सम्मेलन में सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव मुख्य अतिथि थे। सम्मेलन में प्रदेश के चार बार मुख्यमंत्री रह चुके वरिष्ठ कांग्रेसी नेता नारायण दत्त तिवारी सहित सैंकड़ों की संख्या में पूर्व विधायक शमिल हुए। मगर विधानमंडल की सदस्य रह चुकीं पूर्व मुख्यमंत्री मायावती, कल्याण सिंह एवं राजनाथ सिंह मौजूद नहीं थे। (एजेंसी)