Zee Rozgar Samachar

महिला अपराधों के लिए तारों की चाल जिम्मेदार: मंत्री

कांकेर बलात्कार कांड के बाद आलोचनाओं से घिरे छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ननकी राम कंवर यह बयान देकर विवादों में फंस गये हैं कि महिलाओं के खिलाफ अपराध इसलिए हो रहे हैं क्योंकि उनके गृह नक्षत्र सही नहीं हैं।

रायपुर : कांकेर बलात्कार कांड के बाद आलोचनाओं से घिरे छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ननकी राम कंवर यह बयान देकर विवादों में फंस गये हैं कि महिलाओं के खिलाफ अपराध इसलिए हो रहे हैं क्योंकि उनके गृह नक्षत्र सही नहीं हैं। प्रदेश कांग्रेस ने इस बयान को बचकाना और अभद्र करार दिया है।
कंवर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर हमारे पास कोई जवाब नहीं है। तारों की चाल सही नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर गृह नक्षत्र विपरीत स्थितियों में हों तो किसी भी व्यक्ति को नुकसान हो सकता है। हमारे पास इसका कोई जवाब नहीं है। केवल ज्योतिषी ही इसका आकलन कर सकते हैं।
कंवर का बयान तब आया जब कांकेर जिले में आदिवासी बच्चियों के एक सरकारी आवासीय विद्यालय में नाबालिग बच्चियों के साथ कथित बलात्कार की घटना प्रकाश में आने के बाद राज्य में विपक्षी कांग्रेस ने भाजपा सरकार को हटाने की मांग की थी। गृहमंत्री के बयान के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री रमन सिंह ने अब मैं इस पर क्या कहूं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंद कुमार पटेल ने कंवर के बयान को बचकाना और अभद्र कहा।
पटेल के नेतृत्व में कल कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल छत्तीसगढ़ के राज्यपाल शेखर दत्त से मिला था और राज्य सरकार को बर्खास्त करने की मांग की थी।
राज्यपाल को सौंपे ज्ञापन में कांग्रेस ने कहा कि कांकेर के नरहरपुर इलाके में लड़कियों के साथ बलात्कार की घटना से सभी स्तब्ध हैं। पुलिस के मुताबिक सरकारी आवासीय विद्यालय में कथित तौर पर नाबालिग लड़कियों से बलात्कार के मामले में एक शिक्षक समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
पुलिस अधीक्षक राहुल भगत ने कहा कि मामले में आरोपी शिक्षक मन्नू राम गोता को रविवार की रात को नरहरपुर के एक जंगली इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया। 24 साल का गोता संविदा पर काम कर रहा था। स्कूल के चौकीदार दीनाराम को भी मामले में हिरासत में ले लिया गया है। चिकित्सकीय जांच में 40 बच्चियों में से नौ के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है। जांच अभी चल रही है।
छत्तीसगढ़ सरकार ने घटना के मामले में उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिये हैं और पुलिस महानिदेशक रामनिवास ने आईपीएस अधिकारी नीतू कमल को जांच का काम सौंपा है। डीजीपी ने कहा कि जांच के बाद दोषी पाये गये लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। इस बीच जिला कलेक्टर ने दोनों आरोपियों के साथ होस्टल वार्डन बबीता मरकम को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। (एजेंसी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.