close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राम सिंह की आज होनी थी कोर्ट में पेशी

दिल्‍ली में बीते दिसंबर माह में एक चलती बस में पैरा मेडिकल की छात्रा के साथ हुए गैंगरेप एवं हत्‍या मामले के मुख्‍य आरोपी राम सिंह ने सोमवार को खुदकुशी कर ली। ज्ञात हो कि इस गैंगरेप मामले की सुनवाई फास्‍ट ट्रैक कोर्ट में चल रही है और आज राम सिंह को कोर्ट में पेश किया जाना था।

ज़ी न्‍यूज ब्‍यूरो
नई दिल्‍ली : दिल्‍ली में बीते दिसंबर माह में एक चलती बस में पैरा मेडिकल की छात्रा के साथ हुए गैंगरेप एवं हत्‍या मामले के मुख्‍य आरोपी राम सिंह ने सोमवार को खुदकुशी कर ली। ज्ञात हो कि इस गैंगरेप मामले की सुनवाई फास्‍ट ट्रैक कोर्ट में चल रही है और आज राम सिंह को कोर्ट में पेश किया जाना था। ये राम सिंह वही, जिसे दिल्‍ली गैंगरेप की घटना के बाद पुलिस ने सबसे पहले गिरफ्तार किया था। जिस बस में यह वीभत्‍स घटना हुई थी, राम सिंह उसी बस का ड्राइवर था। यह भी बताया जा रहा है कि राम सिंह मानसिक रूप से विक्षिप्‍त था।
अभियुक्त राम सिंह ने तड़के करीब पांच बजे तिहाड़ जेल की जेल नंबर 3 के वार्ड नंबर 5 में फंदे लगाकर खुदकुशी कर ली। उसे तुरंत दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।
इस केस में गिरफ्तारी के बाद राम सिंह को जब तिहाड़ जेल में पहले दिन लाया गया था, उस दिन जेल के अन्‍य कैदियों ने उस पर हमला किया था। इसके बाद राम सिंह काफी दबाव महसूस कर रहा था। हालांकि, इस घटना को जेल प्रशासन ने दबा लिया था।
गौरतलब है कि 16 दिसम्बर, 2012 को राम सिंह व उसके पांच साथियों ने राजधानी की सड़कों पर एक चलती बस में 23 वर्षीया ट्रेनी फिजियोथेरेपिस्ट के साथ बर्बरता पूर्ण तरीके से सामूहिक दुष्कर्म किया था। पीड़िता को आई चोटों के चलते घटना के दो सप्ताह बाद सिंगापुर के एक अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी।