शिवराज सिंह चौहान से खुली बहस को दिग्विजय तैयार

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के उन आरोपों का आज खंडन किया जिसमें उन्होंने कहा था कि अपने कार्यकाल के दौरान सिंह राज्य को तबाही की कगार पर ले गए थे।

भोपाल : कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के उन आरोपों का आज खंडन किया जिसमें उन्होंने कहा था कि अपने कार्यकाल के दौरान सिंह राज्य को तबाही की कगार पर ले गए थे।
कांग्रेस नेता ने कहा, ‘मैं जानता हूं कि इन दिनों चौहान अपनी ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ पर जहां भी जा रहे हैं, वह यही दावा कर रहे हैं लेकिन मैं यह भी जानता हूं कि इसमें कोई सच्चाई नहीं है।’ सिंह ने कहा कि वह चौहान के साथ इस विषय पर खुली बहस करने को तैयार हैं कि मध्यप्रदेश के लिए मुख्यमंत्री के तौर पर किसने अधिक काम किया।
उन्होंने कहा कि चौहान बहस का समय और स्थान चुन सकते हैं। सिंह के कहा कि वह जब 1993 में मुख्यमंत्री बने थे तब राज्य की स्थिति खराब थी और उनके कार्यकाल में राज्य ने काफी विकास किया। उन्होंने कहा कि चौहान के साथ बहस में वह उन सभी मुद्दों पर बहस करना चाहते हैं जो किसी राज्य को प्रभावित करते हैं।
सिंह ने कहा, ‘अगर मैं राज्य को तबाही के कगार पर ले गया होता तो मैंने चौहान को यह चुनौती नहीं दी होती।’ उन्होंने कहा कि यदि चौहान ने मध्यप्रदेश के लिए वास्तव में अच्छा काम किया है तो उन्हें यह चुनौती स्वीकार कर लेनी चाहिए और बहस के लिए सहमत हो जाना चाहिए। (एजेंसी)