सेना के हेलीकॉप्टर पर हमले में घायल जवानों को रायपुर लाया गया

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सली हमले में घायल जवानों को बेहतर इलाज के लिए रायपुर लाया गया है। वहीं गोलीबारी में क्षतिग्रस्त हेलीकाप्टर की मरम्मत के लिए वायुसेना के तकनीकी अधिकारी सुकमा पहुंच गए हैं।

रायपुर : छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सली हमले में घायल जवानों को बेहतर इलाज के लिए रायपुर लाया गया है। वहीं गोलीबारी में क्षतिग्रस्त हेलीकाप्टर की मरम्मत के लिए वायुसेना के तकनीकी अधिकारी सुकमा पहुंच गए हैं।
राज्य के पुलिस महानिदेशक रामनिवास ने आज यहां बताया कि शुक्रवार को सुकमा जिले में छत्तीसगढ़ सशस्त्र पुलिस बल के जवानों पर नक्सली हमले में घायल पलटन कमांडर नंदकिशोर भदौरिया और हेलीकाप्टर में सवार वायरलेस आपरेटर एमके साहू को बेहतर इलाज के लिए रायपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
रामनिवास ने बताया कि सुकमा जिले के तेमेलवाड़ा गांव के जंगल में शुक्रवार को नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल की रोड ओपनिंग पार्टी पर हमला कर दिया था। इस हमले में हवलदार बैसूराम मंडावी की मृत्यु हो गई थी तथा पलटन कमांडर नंदकिशोर भदौरिया घायल हो गए थे।
पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस हमले में घायल पलटन कमांडर को बाहर निकालने के लिए वायु सेना के हेलीकाप्टर एमआई-17 को तेमेलवाड़ा रवाना किया गया था। हेलीकाप्टर में सात लोग सवार थे। लेकिन इससे पहले नक्सलियों ने हेलीकाप्टर पर गोलीबारी कर दी जिससे इसमें सवार वायरलेस आपरेटर एमके साहू घायल हो गए। वहीं हेलीकाप्टर में गोली लगने के कारण उसे चिंतागुफा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जंगल में आपात स्थिति में उतारा गया।
रामनिवास ने बताया कि हेलीकाप्टर के उतरने के कुछ देर बाद केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का दल हेलीकाप्टर के पास पहुंचा तथा उसे सुरक्षा घेरे में रखा गया है। वहीं आज जगदलपुर से चिंतागुफा के लिए वायुसेना के तकनीकी अधिकारियों की टीम को अन्य हेलीकाप्टर से रवाना किया गया। बाद में यह हेलीकाप्टर घायलों को लेकर रायपुर रवाना हो गया। (एजेंसी)