Breaking News
  • दिल्ली: शाहीन बाग समेत 8 सड़कें खोलने की मांग वाली याचिका पर HC ने केंद्र और दिल्ली सरकार को जारी किया नोटिस
  • कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम राहत. पटेल की एक हप्ते तक नहीं होगी गिरफ्तारी
  • एस एन श्रीवास्‍तव दिल्‍ली के अगले पुलिस कमिश्‍नर होंगे. 1985 बैच के हैं आईपीएस ऑफिसर
  • दिल्ली हिंसा: स्वरा भास्कर, अमानतुल्लाह खान और अन्य पर मामला दर्ज करने की मांग, HC ने पुलिस, राज्‍य सरकार को भेजा नोटिस
  • AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर पहुंची फोरेंसिक टीम

`असम के बोडोलैंड क्षेत्र में स्थिति शांतिपूर्ण`

असम के बोडोलैंड क्षेत्र स्थित कोकराझार जिले में पिछले 24 घंटों के भीतर हिंसा की कोई ताजा घटना सामने नहीं आई है। स्थिति सामान्य होते देख जिला प्रशासन ने लगातार दूसरे दिन सोमवार को भी कर्फ्यू में ढील दी। इस अशांत जिले में 10 नवंबर से अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है।

गुवाहाटी : असम के बोडोलैंड क्षेत्र स्थित कोकराझार जिले में पिछले 24 घंटों के भीतर हिंसा की कोई ताजा घटना सामने नहीं आई है। स्थिति सामान्य होते देख जिला प्रशासन ने लगातार दूसरे दिन सोमवार को भी कर्फ्यू में ढील दी। इस अशांत जिले में 10 नवंबर से अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है।
एक अधिकारी ने बताया कि बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र (बीटीएडी) के कोकराझार में सोमवार को सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक की ढील दी गई। जिले भर में सुरक्षा व्यवस्था में कोई कमी नहीं लाई गई है तथा संवेदनशील इलाकों में सेना लगातार फ्लैग मार्च कर रही है।
अधिकारी ने कहा,‘हम कह सकते हैं कि बीटीएडी में, खासकर कोकराझार जिले में अब स्थिति शांतिपूर्ण है लेकिन अभी भी संवेदनशील है। सुरक्षा कारणों से हम तुरंत कर्फ्यू नहीं हटा सकते।’
उन्होंने कहा,‘हमारी योजना दिन में कर्फ्यू में ढील देने और रात में फिर से लागू करने की है, ताकि हिंसा की साजिश रचने वाले स्थिति का फायदा न उठा सकें।’
उल्लेखनीय है कि संदिग्ध उग्रवादी कोकराझार और पड़ोसी जिले बाकसा में 10 नवंबर से अब तक कम से कम 10 लोगों की जान ले चुके हैं। इन हत्याओं के बाद कोकराझार जिले में हिंसा शुरू हो गई थी। (एजेंसी)