close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्राण को घर पर दिया दादा साहब फाल्के अवॉर्ड

बॉलीवुड के लीजेंड और जानेमाने खलनायक प्राण को दादा साहेब सम्मान सरकार ने उनके घर पर जाकर शुक्रवार को दिया।

मुम्बई: केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने वयोवृद्ध अभिनेता प्राण को मुम्बई स्थित उनके आवास पर शुक्रवार को दादासाहेब फाल्के पुरस्कार प्रदान किया। भारतीय सिनेमा का यह सर्वोच्च सम्मान है। 93 वर्षीय प्राण पिछले सप्ताह दिल्ली में आयोजित 60वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह के अवसर पर स्वास्थ्य कारणों से शिरकत नहीं कर पाए थे।
प्राण को पुरस्कार प्रदान किए जाने का संक्षिप्त कार्यक्रम टेलीविजन पर सीधा प्रसारित किया गया। तिवारी ने प्राण के आवास पर संवाददाताओं से कहा कि प्राण साब को सम्मानित करना गौरव की बात है। भारतीय सिनेमा में उन्होंने बहुत बड़ा योगदान दिया है और प्राण को दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित करने से इस अवार्ड की महत्ता और बढ़ गई है।
प्राण ने लगभग छह दशकों के अपने करियर में 400 से अधिक फिल्में की हैं, और खलनायक एवं नायक के साथ-साथ चरित्र अभिनेता का किरदार भी बखूबी निभाया है।
नायक के रूप में करियर की शुरुआत करने वाले प्राण को फिल्म 'मधुमिता', 'जिद्दी' और 'राम और श्याम' में खलनायक के किरदार से पहचान मिली थी। इन फिल्मों की सफलता ने उन्हें बॉलीवुड में खलनायक का प्रतीक बना दिया था।
इस अवसर पर उनके परिवार के अलावा फिल्मकार करन जौहर की मां हीरू जौहर एवं टेलीविजन और फिल्म कलाकार विशाल मल्होत्रा उपस्थित थे। (एजेंसी)