close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

‘चेन्नई एक्सप्रेस’ में दक्षिण भारत का नहीं उड़ाया मजाक: दीपिका

‘चेन्नई एक्सप्रेस’ में दीपिका पादुकोण के तमिल लहजे वाले हिन्दी संवाद भले ही कुछ आलोचकों को रास नहीं आए हों लेकिन इस अभिनेत्री ने इस बात से इंकार किया है कि यह फिल्म किसी भी तरह से दक्षिण भारत का मजाक उड़ाती है।

नई दिल्ली : ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ में दीपिका पादुकोण के तमिल लहजे वाले हिन्दी संवाद भले ही कुछ आलोचकों को रास नहीं आए हों लेकिन इस अभिनेत्री ने इस बात से इंकार किया है कि यह फिल्म किसी भी तरह से दक्षिण भारत का मजाक उड़ाती है।
दीपिका ने कहा कि वह खुद भी दक्षिण भारतीय हैं और वह खुद अपनी संस्कृति का कभी भी मजाक नहीं बना सकतीं।
उन्होंने कहा कि असल में, शाहरुख खान अभिनीत इस फिल्म में उन्हें तमिल- हिन्दी भाषा संवाद अच्छी तरह से बोलना सीखने में थोड़ा समय लगा। रोहित शेट्टी द्वारा निर्देशित यह फिल्म आगामी शुक्रवार को रिलीज हो रही है।
दीपिका ने एक प्रचार कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘मुझे समझ में नहीं आता कि लोग फिल्म देखे बगैर इस निष्कर्ष पर कैसे पहुंच रहे हैं। हम सभी दक्षिण भारतीय हैं, रोहित दक्षिण भारतीय हैं और मुझे लगता है कि शाहरुख को छोड़कर फिल्म से जुड़े ज्यादातर लोग दक्षिण से ही हैं।’
उन्होंने कहा, ‘हम अपनी संस्कृति का मजाक क्यों बनाएंगे? कई वर्षों से हमारी फिल्में पंजाब आधारित होती थीं लेकिन अब कुछ ऐसी फिल्में बन रही हैं जो दक्षिण भारत की कहानियों पर आधारित हैं। मुझे लगता है कि लोग अभी इसके आदी नहीं हैं। यह हास-परिहास और जीवन के विविध पहलुओं को दर्शाने वाली फिल्म है इसलिए संवाद मजेदार होने चाहिए।’
इस फिल्म में दीपिका ने एक तमिल लड़की की भूमिका निभाई है जिसे भाषाई बाधा के बावजूद एक उत्तर भारतीय से प्यार हो जाता है। (एजेंसी)