सिगरेट से मुक्ति चाहिए तो ग्रीन टी पीजिए

अगर आप सिगरेट की लत छोड़ना चाहते हैं तो ग्रीन टी का सेवन कीजिए। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार ग्रीन टी में मौजूद तत्व निकोटीन की लत छुड़ाने में मदद करते हैं।

तिरुवनंतपुरम : अगर आप सिगरेट की लत छोड़ना चाहते हैं तो ग्रीन टी का सेवन कीजिए। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार ग्रीन टी में मौजूद तत्व निकोटीन की लत छुड़ाने में मदद करते हैं। चीन की पत्रिका `साइंस चाइना लाइफ` में `ए रेवोल्यूशनरी अप्रोज फॉर दे सिसेशन ऑफ स्मोकिंग` शीर्षक से प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार वैज्ञानिकों ने निकोटीन की तलब को शांत करने के लिए ग्रीन टी के तत्वों को मिलाकर एक सिगरेट का निर्माण किया। मालाबार कैंसर इंस्टीट्यूट के अध्यापक फिंस फिलीप ने कहा कि धूम्रपान की लत छुड़ाने के लिए निकोटीन रिप्लेसमेंट थिरेपी कारगर पाई गई है।
उन्होंने बताया, बहुसंख्यक लोग धूम्रपान आराम पाने के लिए करते हैं। ग्रीन टी में मौजूद अमीनो एसिड एल-थिएनिन तनाव रोधी असर के लिए जाना जाता है। चीन में किए गए अध्ययन के अनुसार ग्रीन टी सिगरेट की लत छुड़ाने का विकल्प हो सकती है। केरल में 21.9 फीसदी लोग धूम्रपान करते हैं।
कोच्चि लेकशोर हास्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के थामस वर्गीज ने कहा कि सिगरेट छोड़ने के बाद ग्रीन टी का सेवन जारी रखने से फेफड़े के कैंसर की सम्भावना कम हो जाती है। उन्होंने कहा, ग्रीन टी के सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। इसका सेवन जारी रखने से धूम्रपान से हुई क्षति का दुष्प्रभाव कम होता है। (एजेंसी)