close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोदी-शिंजो अबे की मित्रता के बावजूद जापानी कंपनियां आशंकित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया जापान यात्रा के दौरान जापानी प्रधानमंत्री शिंजो अबे और मोदी के बीच मित्रता गहराने के बावजूद जापानी कंपनियां भारत में कारोबार को लेकर आशंकित हैं। हाल ही में मोदी ने अपनी पांच दिन की जापान यात्रा क्योतो से शुरू की और इस यात्रा के दौरान जापान ने अगले पांच साल के दौरान भारत में 34 अरब डालर खर्च करने की प्रतिबद्धता जताई।

टोक्‍यो : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया जापान यात्रा के दौरान जापानी प्रधानमंत्री शिंजो अबे और मोदी के बीच मित्रता गहराने के बावजूद जापानी कंपनियां भारत में कारोबार को लेकर आशंकित हैं। हाल ही में मोदी ने अपनी पांच दिन की जापान यात्रा क्योतो से शुरू की और इस यात्रा के दौरान जापान ने अगले पांच साल के दौरान भारत में 34 अरब डालर खर्च करने की प्रतिबद्धता जताई।

जापानी कंपनियां भारत में मौजूद अपार संभावनाओं और सस्ते श्रम बल की उपलब्धता को लेकर आशावान हैं, लेकिन वे जानती हैं कि भारत संभावित समस्याएं हैं। दाइवा इंस्टीट्यूट आफ रिसर्च में एशियाई आर्थिक अनुसंधान के प्रमुख तकाशी कोदामा ने कहा कि भारत का बहुत कमजोर ढांचा वहां विनिर्माण और परिवहन लागत बढ़ा देता है। उन्होंने कहा कि जब तक आप उसे दुरस्त नहीं करते, निवेश को लेकर विश्व से उम्मीद लगाई जा रही है, वह पूरी नहीं हो सकती।

खस्ताहाल सड़कों, सुस्त रेलवे और अन्य कमजोर ढांचागत सुविधाओं के अलावा जटिल स्थानीय नियम.कानून हैं जिनकी वजह से चीन से इतर दूसरी जगह अपना कारखाना लगाने की संभावना तलाश रही बहुराष्ट्रीय कंपनियां भारत में निवेश से कतरा रही हैं।