close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मार्च 2015 तक सभी क्षेत्रीय भाषाओं में मिलेगा स्मार्टफोन!

भारतीय प्रौद्योगिकी क्षेत्र की स्टार्टअप मोफर्स्ट ने क्षेत्रीय भाषा आधारित स्मार्टफोन उतारने की योजना बनाई है। कंपनी का इरादा मार्च, 2015 तक देशभर में क्षेत्रीय भाषा वाले स्मार्टफोन पेश करने का है। कंपनी की पेटेंट वाली प्रौद्योगिकी के जरिये ग्राहक सिर्फ एक स्वाइप पर भाषा बदल सकेंगे।

नई दिल्ली : भारतीय प्रौद्योगिकी क्षेत्र की स्टार्टअप मोफर्स्ट ने क्षेत्रीय भाषा आधारित स्मार्टफोन उतारने की योजना बनाई है। कंपनी का इरादा मार्च, 2015 तक देशभर में क्षेत्रीय भाषा वाले स्मार्टफोन पेश करने का है। कंपनी की पेटेंट वाली प्रौद्योगिकी के जरिये ग्राहक सिर्फ एक स्वाइप पर भाषा बदल सकेंगे।

मोफर्स्ट साल्यूशंस के सह संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी राकेश देशमुख ने कहा, मोबाइल फोन के फीचर्स के इस्तेमाल में सबसे प्रमुख बाधा भाषा की है। हमने गुजराती भाषा वाले स्मार्टफोन को पेश किया है और उसका परीक्षण किया है। मार्च, 2015 तक हम सभी क्षेत्रीय भाषाओं के स्मार्टफोन पेश करेंगे।

कंपनी का गठन दिसंबर, 2008 में हुआ था। इसने फर्स्टटच ब्रांड नाम से स्मार्टफोन विकसित किया है जिसमें उसने अपनी पेटेंट वाली प्रौद्योगिकी डाली है। यह प्रौद्योगिकी अंग्रेजी से क्षेत्रीय भाषाओं में अनुवाद करने में सक्षम है।

देशमुख ने कहा, हमारी स्वाइप प्रौद्योगिकी ने ग्राहकों को अंग्रेजी के साथ क्षेत्रीय भाषा में संपर्क की सुविधा दी है। क्षेत्रीय भाषा में भेजे गए किसी संदेश को स्वाइप करके अंग्रेजी में अनुवाद किया जा सकता है। कंपनी का लक्ष्य जुलाई में हिंदी व मराठी भाषा के फर्स्टटच फोन पेश करने का है। सितंबर में कंपनी तमिल, तेलुगू व बांग्ला में स्मार्टफोन पेश करेगी। नवंबर में कन्नड़ व मलयालम और शेष क्षेत्रीय भाषाओं में मार्च, 2015 तक स्मार्टफोन पेश किए जाएंगे।