RBI ने जनता को लुभाने वाले emails से सतर्क रहने को कहा

भारतीय रिजर्व बैंक ने आम जनता को केंद्रीय बैंक तथा गवर्नर रघुराम राजन के नाम से भेजे जाने वाले जाली ईमेल से सतर्क रहने को कहा है।

नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक ने आम जनता को केंद्रीय बैंक तथा गवर्नर रघुराम राजन के नाम से भेजे जाने वाले जाली ईमेल से सतर्क रहने को कहा है। इस तरह के ईमेल में लोगों को अप्रत्याशित लाभ का वादा किया जाता है। रिजर्व बैंक ने कहा है कि वह इस तरह के ईमेल नहीं भेजता।
रिजर्व बैंक के गवर्नर के नाम से भेजे गए ईमेल्स में उंचे रिटर्न या जैकपॉट का वादा किया गया है। केंद्रीय बैंक के प्रवक्ता ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा कि रिजर्व बैंक अपनी वेबसाइट तथा अन्य माध्यमों के जरिये जाली ईमेल के बारे में नियमित आधार पर जागरूकता अभियान चलाता रहता है। राजन ने 4 सितंबर को डी सुब्बाराव के स्थान पर रिजर्व बैंक के 23वें गवर्नर का पदभार संभाला था। कुछ माह पहले रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर डी सुब्बाराव के नाम से भी इसी तरह के ईमेल भेजने के मामले सामने आए थे। इसमें मेल प्राप्तकर्ता के खाते में 1.2 करोड़ डालर हस्तांतरित करने का सब्जबाग दिखाया गया था।
रिजर्व बैंक ने कहा है कुछ समय पहले उसके सामने कुछ ऐसे मामले आए जिसमें कथित तौर पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की सिक्यूरिटी टीम के .नो-रिप्लाईएटआरबीआई.काम की ओर से मोल भेज कर बैंक धोखाधड़ी रोकने के ‘आन लाइन सिक्यूरिटी प्रोटेक्शन’ की पेशकश की जा रही है। रिजर्व बैंक ने कहा है कि उसके यहां से इस तरह के कोई मेल नहीं भेजे जाते। (एजेंसी)