close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रीति जिंटा प्रकरण: गवाहों ने कहा- वे नहीं है वाडिया के गवाह

बॉलीवुड अभिनेत्री प्रीति जिंटा छेड़छाड़ मामले की जांच कर रही पुलिस का कहना है कि आरोपी नेस वाडिया के दो गवाह जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं जबकि शेष गवाहों की अबतक पहचान नहीं हो पायी है और न ही उनसे संपर्क हो पाया है।

प्रीति जिंटा प्रकरण: गवाहों ने कहा- वे नहीं है वाडिया के गवाह

मुम्बई : बॉलीवुड अभिनेत्री प्रीति जिंटा छेड़छाड़ मामले की जांच कर रही पुलिस का कहना है कि आरोपी नेस वाडिया के दो गवाह जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं जबकि शेष गवाहों की अबतक पहचान नहीं हो पायी है और न ही उनसे संपर्क हो पाया है।

जांच से जुड़े एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘जब दो गवाहों से संपर्क किया गया है, तो उन्होंने कहा कि वे दोनों वे लोग नहीं है जिनके नाम वाडिया ने सूची में दिए हैं। लेकिन हम (पुलिस) नहीं समझते कि हमने गलत व्यक्तियों से संपर्क किया है।’ वाडिया ने दो जुलाई को अपने नौ गवाहों की सूची दी थी लेकिन उसमें उन्होंने यह नहीं बताया कि वे क्या क्या काम करते हैं।

अधिकारी ने कहा, ‘बस नाम से उनकी पहचान संभव नहीं है। हम अब भी उनकी पहचान करने का प्रयत्न कर रहे हैं।’ वाडिया ने दो जुलाई को मरीन ड्राइव थाने के जांच अधिकारी को पत्र भेजकर जिन गवाहों के नाम लिए थे वे सेरिका लाल, लोरेट्टा जोसेफ, पूजा डडलानी, एन्नीलीन एडम्स, फराह उमरभाई, स्वीटी बर्मन, कमलेश शाह, रयान मुस्तफा और शरत नाथ हैं।

प्रीति ने आरोप लगाया था कि यहां 30 मई को वानखेडे स्टेडियम में किंग्स एलेवन पंजाब और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच आईपीएल मैच के दौरान वाडिया ने उनसे छेड़छाड़ की, गालियां दी और धमकी दी। पुलिस ने अबतक प्रीति के 12 गवाहों के बयान दर्ज कर चुकी है। उसने सात गवाहों को अहम माना है।

जिन गवाहों के बयान दर्ज किए गए हैं उसमें आईपीएल के मुख्य परिचालन अधिकारी सुंदर रमन, बीसीसीआई सचिव संजय पटेल, किंग्स इलेवन पंजाब के सीओओ फ्रेजर कैस्टेलिनो शामिल हैं। गवाह डेनिश मर्चेंट और जय कन्नौजिया एवं पारूल खन्ना ने इस बात की पुष्टि की कि वाडिया ने तीखी बहस के दौरान हाथ पकड़कर प्रीति को खींचा जबकि कैस्टेलिनो का कहना है कि उन्होंने कोई लड़ाई या बहस नहीं देखी।