कश्मीर में 1,000 सैन्यकर्मी, परिवार बिना भोजन पानी के फंसे

कश्मीर में 1,000 से अधिक सैन्यकर्मी और उनके परिवार कश्मीर के विभिन्न शिविरों में बिना भोजन और पानी के फंसे हैं। इसके बावजूद सैन्यकर्मी प्रभावित इलाकों के घरों से युद्धस्तर पर लोगों को बचाने के काम में जुटे हैं।

श्रीनगर: कश्मीर में 1,000 से अधिक सैन्यकर्मी और उनके परिवार कश्मीर के विभिन्न शिविरों में बिना भोजन और पानी के फंसे हैं। इसके बावजूद सैन्यकर्मी प्रभावित इलाकों के घरों से युद्धस्तर पर लोगों को बचाने के काम में जुटे हैं।

 

सेना के एक अधिकारी ने बताया, ‘दक्षिण कश्मीर और श्रीनगर स्थित सेना के कई शिविरों में बाढ़ का पानी घुस गया है और 1,000 से ज्यादा सैन्यकर्मी और उनके परिवार बिना भोजन और पानी के उन शिविरों में फंसे हैं।’ बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे लाखों लोगों को बचाने के काम में सैन्यकर्मी दिन रात जुटे हैं और अभी भी कई इलाकों में उनका पहुंचना बाकी है।

उन्होंने बताया कि पानी, बिजली की आपूर्ति और अन्य सेवाएं प्रभावित हुई हैं। सैन्यकर्मी संसाधनों के संरक्षण के उपायों में जुटे हैं ताकि जरूरतमंदों की मदद की जा सके । मध्य और दक्षिण कश्मीर की सीमाओं पर 20 से अधिक छोटे-बड़े सैन्य शिविर हैं जो बाढ़ से प्रभावित हैं।

सेना ने 8 सितंबर को कश्मीर के बादामीबाग छावनी स्थित सैन्य मुख्यालय में फंसे 1,400 सैन्यकर्मियों और उनके परिवारों को बचाया था जिनमें 120 बच्चे भी शामिल थे। झेलम नदी में 7 सितंबर को जलस्तर खतरे के निशान से उपर बहने के कारण शिवपुरा और इंद्रनगर सहित सैन्य मुख्यालय और सैन्य अस्पताल वाला बादामीबाग छावनी क्षेत्र जलमग्न हो गया था ।