तेलंगाना राज्य के लिए प्रतिबद्ध है सरकार: प्रधानमंत्री

भाजपा सहित कुछ राजनीतिक दलों की ओर से संसद के शीतकालीन सत्र में पृथक तेलंगाना राज्य गठित करने संबंधी विधेयक पेश करने की मांग के बीच प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध है।

नई दिल्ली : भाजपा सहित कुछ राजनीतिक दलों की ओर से संसद के शीतकालीन सत्र में पृथक तेलंगाना राज्य गठित करने संबंधी विधेयक पेश करने की मांग के बीच प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध है।
गुरुवार से शुरू हो रहे संसद के 12 दिवसीय सत्र से पहले लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार द्वारा आज बुलाई गई सर्वदलीय बैठक के बाद प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हमारी सरकार तेलंगाना के गठन को लेकर प्रतिबद्ध है और हमारा यह प्रयास होगा कि तेलंगाना के गठन को साकार करने के लिए कानून की उचित प्रक्रिया का पूरा इस्तेमाल हो।’’ उनसे सवाल किया गया था कि क्या सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में तेलंगाना विधेयक ला रही है।
अभी तक यह विधेयक संसद सत्र के काम-काज के लिए सरकार के एजेंडा में सूचीबद्ध नहीं है।
कल सरकार की ओर से बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने कहा कि वह यह देखकर चकित थीं कि तेलंगाना विधेयक सत्र के लिए सरकार की सूची में शामिल नहीं है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि सरकार इस सत्र में तेलंगाना विधेयक पारित कराने के लिए लाएगी।
कमलनाथ ने हालांकि, आश्वासन दिया कि सरकार केंद्रीय मंत्रिमंडल से तेलंगाना विधेयक के प्रस्‍ताव को मंजूरी दिलाने ओर राष्ट्रपति से उस पर सहमति पाने की प्रक्रिया को तेज करेगी। (एजेंसी)