सूडान में फिरौती के लिए अपहृत मुंबई का इंजीनियर रिहा

सूडान के दारफुर में फिरौती के लिए तकरीबन तीन महीने तक बंदूकधारियों द्वारा बंधक बनाकर रखे गए 32 वर्षीय इंजीनियर इरफान जाफरी को रिहा कर दिया गया है और फिलहाल वह सूडानी अधिकारियों के साथ है। यह जानकारी शुक्रवार को यहां उसके परिवार ने दी।

मुंबई : सूडान के दारफुर में फिरौती के लिए तकरीबन तीन महीने तक बंदूकधारियों द्वारा बंधक बनाकर रखे गए 32 वर्षीय इंजीनियर इरफान जाफरी को रिहा कर दिया गया है और फिलहाल वह सूडानी अधिकारियों के साथ है। यह जानकारी शुक्रवार को यहां उसके परिवार ने दी।

इरफान की पत्नी नफीसा जाफरी ने कहा कि मेरे पास कल रात साढ़े नौ बजे फोन कॉल आया कि मेरे पति को रिहा कर दिया गया है। मैंने उनसे कल रात और आज बातचीत की। उन्होंने कहा कि वह अब सूडानी अधिकारियों के साथ हैं। नफीसा पड़ोसी ठाणे जिले के डोंबीवली में अपने सात साल के बच्चे के साथ रहती है।

विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता सैयद अकबरूद्दीन ने ट्वीट करके कहा कि इरफान जाफरी को रिहा किए जाने की पुष्टि की जाती है और वह सूडानी अधिकारियों के साथ हैं। वह कल खारतूम में होंगे। हमारा मिशन उनके संपर्क में है। पिछले पांच वर्षों से ट्राइजिन टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के साथ काम कर रहे आईटी इंजीनियर इरफान साल में दो बार घर आया करते थे। 11 मार्च को पांच सशस्त्र लोगों ने कथित तौर पर एक तुर्की रेस्त्रां के बाहर से इरफान का अपहरण कर लिया। तब से दारफुर के कबायली इलाके में वह बंधक बनाकर रखे गए थे।

बहुराष्ट्रीय आईटी फर्म दुनियाभर में संयुक्त राष्ट्र मिशनों में सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी से संबंधित सेवाएं प्रदान करती है। (एजेंसी)