close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जेटली छोड़ेंगे रक्षा मंत्रालय, जोशी-शौरी दौड़ में

भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली को दिए गए रक्षा मंत्रालय के अतिरिक्त प्रभार ने ऐसी अटकलें पैदा कर दी हैं कि पार्टी के किसी अन्य कद्दावर नेता को जल्द ही यह मंत्रालय सौंपा जा सकता है।

नई दिल्ली : भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली को दिए गए रक्षा मंत्रालय के अतिरिक्त प्रभार ने ऐसी अटकलें पैदा कर दी हैं कि पार्टी के किसी अन्य कद्दावर नेता को जल्द ही यह मंत्रालय सौंपा जा सकता है।
वित्त मंत्री नियुक्त किए गए जेटली ने रक्षा मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार संभालते वक्त मंगलवार को जो कुछ कहा उससे कुछ ऐसे ही संकेत मिलते हैं।
जेटली ने कहा, ‘‘एक बार मंत्री-परिषद के पूर्ण विस्तार के बाद वैकल्पिक व्यवस्था होने तक मेरे पास मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार है। यह बहुत अहम मंत्रालय है और पूर्णकालिक रूप से मंत्रालय का कामकाज संभालने के लिए अगले कुछ हफ्तों में इसे कोई पूर्णकालिक मंत्री मिल जाना चाहिए।’’ जेटली के बयान ने ऐसी अटकलें पैदा कर दी हैं कि रक्षा मंत्रालय भाजपा के किसी वरिष्ठ नेता को सौंपा जा सकता है।
हालांकि, इस बाबत आधिकारिक तौर पर अभी कुछ नहीं कहा गया है पर वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी और अरुण शौरी का नाम रक्षा मंत्री पद की दौड़ में आगे चल रहा है। भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और जोशी को मोदी मंत्री-परिषद में जगह नहीं दी गई है। (एजेंसी)