close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राहत शिविर पर मुलायम के दावे का पैनल ने किया खंडन

सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव के दावे का खंडन करते हुए एक उच्चस्तरीय समिति ने कहा कि मुजफ्फरनगर में दंगा पीड़ितों के राहत शिविरों में अब भी 4,783 विस्थापित लोग रह रहे हैं और शिविरों में 12 साल से कम उम्र के कम से कम 34 बच्चों की मौत हुई है।

लखनऊ: सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव के दावे का खंडन करते हुए एक उच्चस्तरीय समिति ने कहा कि मुजफ्फरनगर में दंगा पीड़ितों के राहत शिविरों में अब भी 4,783 विस्थापित लोग रह रहे हैं और शिविरों में 12 साल से कम उम्र के कम से कम 34 बच्चों की मौत हुई है।
कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा अचानक राहत शिविरों का दौरा करने के बाद सत्तारूढ़ सपा के प्रमुख यादव ने सोमवार को यह दावा कर विवाद को जन्म दे दिया था कि शिविरों में कोई दंगा पीड़ित नहीं है और वहां रह रहे लोग कांग्रेस तथा भाजपा के षडयंत्रकारी हैं। उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपी गयी रिपोर्ट के अनुसार मुजफ्फरनगर के लोई तथा शामली के मदरसा तैमूल शाह, मलकपुर, बरनवी तथा ईदगाह में कुल पांच शिविरों में 4,783 लोग अब भी रह रहे हैं।
ठंड के कारण राहत शिविरों में बच्चों की मौत होने के आरोपों के बीच गुप्ता ने कहा, ‘ मृतक बच्चों में से ज्यादातर वे हैं जिन्हें उनके माता-पिता इलाज के लिये शिविरों से बाहर ले गये थे, या फिर जिन्हें इलाज के लिये सरकारी अस्पतालों में भेजा गया था।’ (एजेंसी)