close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोदी के शपथ लेते ही आज बनेंगे कई इतिहास

एक आदमी जिसने स्कूल में पढ़ते हुए ट्रेनों में चाय बेचकर अपने परिवार की मदद की थी, वह सोमवार को देश के 14वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेगा।

नई दिल्ली: एक आदमी जिसने स्कूल में पढ़ते हुए ट्रेनों में चाय बेचकर अपने परिवार की मदद की थी, वह सोमवार को देश के 14वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेगा। यह भारतीय राजनीति, उसके पड़ोसियों और दुनिया के लिए एक स्मरणीय क्षण होगा। कई अर्थो में यह इतिहास में दर्ज होगा। आठ देशों की सरकारों के प्रमुखों की मौजूदगी में नरेंद्रभाई दमोदरदास मोदी (63) को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी खुले आसमान में आयोजित होने वाले एक भव्य समारोह में पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे।
राष्ट्रपति भवन के अग्र प्रांगण में आयोजित होने वाले इस समारोह में विदेशी राजनयिकों सहित 4000 अतिथि मौजूद रहेंगे। समारोह का प्रसारण देश और दुनिया में देखा जा सकेगा। हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को पूर्ण बहुमत दिला कर मोदी ने इतिहास रचा। पहले भी छह वर्षो तक शासन कर चुकी पार्टी को पहली बार बहुमत हासिल हुआ है। इससे पहले वह गठबंधन सहयोगियों के बलबूते सरकार चलाती रही थी।
गुजरात में 13 वर्षो तक मुख्यमंत्री के रूप में शासन कर चुकने के बाद मोदी ने नामित प्रधानमंत्री के रूप में कूटनीतिक संकेत देकर अपने विरोधियों को हैरत में डाल दिया है। सार्क के सदस्य देशों के प्रमुखें को न्योता दिया गया और बांग्लादेश को छोड़ पाकिस्तान सहित अन्य सभी देशों के प्रमुख शपथ ग्रहण में हिस्सा लेने आ रहे हैं। यह इस बात का संकेत है कि मोदी नीत सरकार के द्विपक्षीय संबंधों का नया अध्याय लिखने के लिए पड़ोसी बेकरार हैं।
यह इस बात का भी संकेत है कि हिंदुत्वादी संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व प्रचारक मोदी भारत और इससे बाहर एक नेता के रूप में उभरना चाहते हैं। (एजेंसी)