तहलका केस: महिला आयोग ने ट्विटर टिप्पणी पर मीनाक्षी लेखी से मांगा जवाब

तहलका मामले में पीड़ित का नाम ट्वीट करने पर राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने आज भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी को नोटिस भेजा है। महिला आयोग ने भाजपा प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी से तहलका के संपादक तरूण तेजपाल पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला पत्रकार का उपनाम ट्विटर पर सार्वजनिक करने पर स्पष्टीकरण मांगा और 25 घंटे में जवाब देने को कहा है।

ज़ी मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली: तहलका मामले में पीड़ित का नाम ट्वीट करने पर राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने आज भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी को नोटिस भेजा है। महिला आयोग ने भाजपा प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी से तहलका के संपादक तरूण तेजपाल पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला पत्रकार का उपनाम ट्विटर पर सार्वजनिक करने पर स्पष्टीकरण मांगा और 25 घंटे में जवाब देने को कहा है।
आयोग की सदस्य और गोवा की प्रभारी शमीना शफीक ने कहा कि हमने मीनाक्षी लेखी से स्पष्टीकरण मांगा है कि उन्होंने पीड़ित के उपनाम को सार्वजनिक क्यों किया। वह एक जिम्मेदार व्यक्ति हैं और अगर उनके जैसा व्यक्ति इस तरह की गलती करता है तो यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। आयोग ने उन्हें जवाब देने के लिए 25 घंटे का समय दिया है। शमीना ने कहा कि आईपीसी की धारा 228ए के तहत पीड़ित की पहचान का खुलासा करना अपराध है और आयोग इस पर कार्रवाई करेगी।