Zee Rozgar Samachar

मोदी की रामराज्य की टिप्पणी कानून का उल्लंघन नहीं: बीजेपी

बीजेपी ने कहा कि एक रैली में नरेंद्र मोदी ने भारतीय परंपराओं के अनुरुप सुशासन के लिए ‘रामराज्य’ की टिप्पणी की और यह किसी कानून का उल्लंघन नहीं है।

नई दिल्ली : बीजेपी ने कहा कि एक रैली में नरेंद्र मोदी ने भारतीय परंपराओं के अनुरुप सुशासन के लिए ‘रामराज्य’ की टिप्पणी की और यह किसी कानून का उल्लंघन नहीं है। भाजपा नेता यशवन्त सिन्हा ने कहा कि यदि वह रामराज्य के बारे में बात कर रहे हैं। हमारी परंपराओं के अनुसार जब हम सुशासन की बात करते हैं तो हम रामराज्य की बात करते हैं। पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि मोदी ने ऐसा कहकर किसी कानून का उल्लंघन नहीं किया है तथा यदि चुनाव आयोग ने नोटिस जारी किया तो पार्टी उसका उपयुक्त जवाब देगी।
सिन्हा ने कहा कि चुनाव आयोग ने इसका संज्ञान लिया है। यदि चुनाव आयोग नोटिस देता है तो हम जवाब देंगे। मोदी की ओर से फैजाबाद की एक रैली में ‘रामराज्य’ संबंधी टिप्पणी करने पर चुनाव आयोग गौर कर रहा है। मोदी ने फैजाबाद में पार्टी उम्मीदवार लल्लू सिंह के समर्थन में एक रैली की और रैली के मंच पर भगवान राम तथा अयोध्या में प्रस्तावित भव्य राममंदिर के माडल का चित्र लगा हुआ था।
इसी बीच, भाजपा ने आगाह किया कि असम के बोडोलैंड क्षेत्रीय प्रशासनिक जिलों में हिंसा प्रभावित लोगों को आग्नेयास्त्र दिये जाने संबंधी किसी भी कदम से स्थिति गृह युद्ध की ओर बढ़ सकती है। असम के एक मंत्री के हवाले से कथित तौर पर यह बयान आया था कि राज्य सरकार की ओर से क्षेत्र के लोगों को आत्मरक्षा के लिए लाइसेंसी हथियार दिए जाएंगे। इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा नेता यशवन्त सिन्हा ने कहा कि यह सरकार के किसी जिम्मेदार व्यक्ति द्वारा दिया गया एक बेहद विचित्र बयान है। इसका मतलब है कि असम सरकार पूरी तरह से विफल हो चुकी है। बहरहाल, असम के मुख्यमंत्री तरूण गोगोई ने मीडिया में आयी इन खबरों को खारिज कर दिया है कि राज्य सरकार हिंसा प्रभावित लोगों को आग्नेयास्त्र देगी। उन्होंने कहा कि संवेदनशील इलाकों की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। (एजेंसी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.