Breaking News
  • महाराष्‍ट्र के स्‍कूल-कॉलेज में मुस्लिमों को 5 फीसद आरक्षण देने की तैयारी
  • दिल्ली: शाहीन बाग समेत 8 सड़कें खोलने की मांग वाली याचिका पर HC ने केंद्र और दिल्ली सरकार को जारी किया नोटिस
  • कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम राहत. पटेल की एक हप्ते तक नहीं होगी गिरफ्तारी
  • दिल्ली हिंसा: स्वरा भास्कर, अमानतुल्लाह खान और अन्य पर मामला दर्ज करने की मांग, HC ने पुलिस, राज्‍य सरकार को भेजा नोटिस
  • AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर पहुंची फोरेंसिक टीम

मुझे पता नहीं कि मोदी को पिता तुल्‍य मानकर प्रियंका गांधी खुश होंगी: चिदंबरम

बीजेपी के पीएम उम्‍मीदवार नरेंद्र मोदी की ओर से एक इंटरव्‍यू में प्रियंका गांधी को अपनी `बेटी के समान` बताने के बयान पर खासी चर्चा हो रही है। इस संबंध में गुरुवार को जब वित्‍त मंत्री पी चिदंबरम से मीडिया ने पूछा तो उन्‍होंने कहा कि `मैं खुश हूं कि मोदी प्रियंका को अपनी बेटी के समान मानते हैं, लेकिन मुझे पता नहीं है कि वह मोदी को पिता तुल्य मानकर खुश होंगी या नहीं।

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो/बिमल कुमार
नई दिल्‍ली : बीजेपी के पीएम पद के उम्‍मीदवार नरेंद्र मोदी की ओर से एक इंटरव्‍यू में प्रियंका गांधी को अपनी `बेटी के समान` बताने के बयान सियासी जंग तेज हो गई है। इस संबंध में गुरुवार को जब वित्‍त मंत्री पी चिदंबरम से मीडिया ने पूछा तो उन्‍होंने कहा कि `मैं खुश हूं कि मोदी प्रियंका को अपनी बेटी के समान मानते हैं, लेकिन मुझे पता नहीं है कि वह मोदी को पिता तुल्य मानकर खुश होंगी या नहीं।
हालांकि चिदंबरम का यह बयान उस बात की एक तरह से पुष्टि ही करता है कि मोदी ने प्रियंका को अपनी `बेटी के जैसा` बताया था। बताया जाता है कि मोदी ने एक साक्षात्‍कार में कथित तौर पर प्रियंका को बेटी के जैसा बताया था। दूरदर्शन के साथ इंटरव्‍यू में मोदी ने प्रियंका पर बयान दिया था। इस साक्षात्‍कार को 26 अप्रैल की सुबह रिकार्ड किया गया था।
हालांकि दूरदर्शन ने इंटरव्‍यू के इस हिस्‍से को नहीं दिखाया था।

जानकारी के अनुसार, मोदी ने इस इंटरव्यू में कहा था कि प्रियंका गांधी वाड्रा उनकी बेटी की तरह हैं, इसलिए मैं उनके राजनीतिक हमलों का जवाब नहीं दे रहा। मोदी ने कहा कि हमारे यहां बेटियों पर हमले नहीं किए जाते। मगर मोदी का ये बयान लोगों तक नहीं पहुंच पाया क्योंकि जिस दूरदर्शन को दिए इंटरव्यू में यह बात कही गई, उसे कथित तौर पर एडिट कर दिया गया है।
एक अंग्रेजी अखबार के रिपोर्ट के मुताबिक दूरदर्शन ने मोदी का इंटरव्यू रिकार्ड करने के दो दिन बाद तक नहीं दिखाया। फिर अचानक से उसे बिना किसी पूर्व सूचना के प्रसारित कर दिया गया। इतना ही नहीं इंटरव्यू के कई हिस्से भी संपादित कर दिए गए। उन्हीं में यह प्रियंका गांधी वाली टिप्पणी भी थी। मोदी ने कहा था कि सोनिया और राहुल गांधी मेरे राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी हैं। इसलिए मैं उनका जिक्र करता हूं। मगर प्रियंका गांधी के साथ ऐसा नहीं है।
गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी का यह इंटरव्यू दूरदर्शन की वेबसाइट पर भी उपलब्ध नहीं है। इस इंटरव्यू के दौरान ही मोदी ने कहा था कि गुजरात दूरदर्शन को बड़ा राजस्व देता है, फिर भी उन्हें इस न्यूज चैनल पर अघोषित रूप से बैन किया जाता रहा।
सूत्रों के अनुसार, इस तरह की अटकलें थी कि इस साक्षात्‍कार को लेकर उस समय तक कुछ देरी सकती है, जब तक कि दूरदर्शन कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी से इस मसले को लेकर कोई इंटरव्‍यू नहीं ले लेती ताकि दोनों पक्षों का बयान इसमें लेकर इसे संतुलित किया जा सके।
उधर, प्रसार भारती के सीईओ जवाहर सिरकर ने कहा कि उन्‍हें इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि इस इंटरव्‍यू में से किसी अंश का संपादन किया गया है।