रसेल और रेयान ने कमाल की बल्लेबाजी की : गंभीर

कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर ने चैंपियन्स लीग टी-20 में चेन्नई सुपरकिंग्स पर जीत का श्रेय अपने तीन विदेशी खिलाड़ियों सुनील नारायण, आंद्रे रसेल और रेयान टेन डोएसे को दिया। गंभीर ने केकेआर की लगातार दसवीं जीत के बाद कहा, ‘लक्ष्य का पीछा करते हुए हम अच्छी शुरूआत नहीं कर पाये लेकिन हमें पता था कि यह केवल दो ओवर का मामला है।’

रसेल और रेयान ने कमाल की बल्लेबाजी की : गंभीर

हैदराबाद : कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर ने चैंपियन्स लीग टी-20 में चेन्नई सुपरकिंग्स पर जीत का श्रेय अपने तीन विदेशी खिलाड़ियों सुनील नारायण, आंद्रे रसेल और रेयान टेन डोएसे को दिया। गंभीर ने केकेआर की लगातार दसवीं जीत के बाद कहा, ‘लक्ष्य का पीछा करते हुए हम अच्छी शुरूआत नहीं कर पाये लेकिन हमें पता था कि यह केवल दो ओवर का मामला है।’ उन्होंने कहा, ‘हमारी बल्लेबाजी में गहरायी है और हमारे पास आक्रामक बल्लेबाज हैं। हमने शुरू में आक्रामक बल्लेबाजी की कोशिश की लेकिन हम इसमें सफल नहीं रहे। जिस तरह से रसेल ने बल्लेबाजी की, जिस तरह से रेयान ने बल्लेबाजी की, वह अविश्वसनीय है।’ आईपीएल चैंपियन केकेआर ने 158 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चोटी के चार विकेट 21 रन पर गंवा दिये थे। इसके बाद रसेल और टेन डोएसे ने अर्धशतक जड़कर टीम को जीत दिलायी। इससे पहले सुनील नारायण ने गेंदबाजी में कमाल दिखाया और चार ओवर में नौ रन देकर एक विकेट लिया। गंभीर ने कहा, ‘मैं सुनील नारायण का जिक्र जरूर करना चाहूंगा। वह विशिष्ट खिलाड़ी है। उसने चार ओवर में 20 रन देकर मैच हमारे नियंत्रण में रखा। पहले 15 ओवर के बाद हमें लग रहा था कि हम उन्हें इससे भी कम स्कोर पर रोकने में सफल रहेंगे। ’ उन्होंने कहा, ‘हम अभी तक यह टूर्नामेंट नहीं जीत पाये हैं लेकिन हमारे खिलाड़ी मैदान पर जाकर मैच का पासा पलटने के लिये काफी प्रेरित हैं। ’

धोनी केकेआर की पारी के दौरान एक समय ईश्वर पांडे को गेंद सौंपना चाहते थे लेकिन मोहित शर्मा गेंदबाजी के लिये आ गये। उन्होंने फैसला बदलना चाहा लेकिन मोहित रन अप पर आ चुके थे और इसलिए अंपायर ने उन्हें इसकी अनुमति नहीं दी। इस बारे में धोनी ने कहा, ‘ईश्वर को मोहित से कहना चाहिए था कि कप्तान ने मुझे इस छोर से गेंदबाजी करने के लिये कहा है। ’ रसेल ने 25 गेंदों पर 58 रन की तूफानी पारी खेली। उन्हें मैन आफ द मैच चुना गया। उन्होंने कहा कि सकारात्मक बने रहना और हाल में कैरेबियाई प्रीमियर लीग में खेलने का अनुभव उनके काम आया।

इस कैरेबियाई आलराउंडर ने कहा, ‘मैं केवल सकारात्मक बना रहा। मैं सीपीएल में खेलकर आया हूं और मैंने खुद का हौसला बनाये रखा। टेंडो ने बेहतरीन बल्लेबाजी की। हमने स्ट्राइक रोटेट की और उसने मुझसे सकारात्मक बने रहने को कहा। ’ अपनी पावर हिटिंग के बारे में रसेल ने कहा, ‘जब आप अभ्यास के दौरान कड़ी मेहनत करते हो तो यह नैसर्गिक बन जाती है। यह सब कुछ सकारात्मक बने रहने से जुड़ा है। टी-20 में मुझे करारे शाट जमाना पसंद है। अच्छे विकेट पर यह मायने नहीं रखता कि गेंदबाज कौन है। विकेट से अधिक स्पिन नहीं मिल रही थी और मैंने अश्विन और जडेजा के सामने हौसला बनाये रखा। ’