टी20 वर्ल्ड कप: पाकिस्तान को रौंदने के बाद आज वेस्टइंडीज को हराने को भारत तैयार

टीम इंडिया ने टी20 विश्व कप के अपने पहले मुकाबले में पाकिस्तान को सात विकेट से हराकर जीत का आगाज किया था। इस शानदार जीत से लबरेज टीम इंडिया को आज (रविवार को) वेस्टइंडीज के खिलाफ ICC टी20 विश्व कप के दूसरे मैच में क्रिस गेल की चुनौती का सामना करना होगा।

ज़ी न्यूज ब्यूरो
मीरपुर : टीम इंडिया ने टी20 विश्व कप के अपने पहले मुकाबले में पाकिस्तान को सात विकेट से हराकर जीत का आगाज किया था। इस शानदार जीत से लबरेज टीम इंडिया को आज (रविवार को) वेस्टइंडीज के खिलाफ ICC टी20 विश्व कप के दूसरे मैच में क्रिस गेल की चुनौती का सामना करना होगा। पाकिस्तान पर मिली जीत से टीम इंडिया का मनोबल बढ़ा है जो उस टीम का सामना करने के लिए जरूरी है जिसके पास दुनिया का सबसे खतरनाक टी20 बल्लेबाज गेल है। गेल अपने दम पर किसी भी समय मैच का पासा पलटने में सक्षम है लेकिन फॉर्म में चल रही भारतीय स्पिन तिकड़ी आर अश्विन, अमित मिश्रा और रविंद्र जडेजा उनके लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं।
बड़े शॉट खेलने में विश्वास रखने वाले गेल फुटवर्क का इस्तेमाल नहीं करते और ऐसे में अश्विन राउंड द विकेट गेंद डालकर उन्हें चकमा दे सकते हैं। वहीं मिश्रा अपनी गेंदों को फ्लाइट कराके उन्हें आगे आकर खेलने पर मजबूर कर सकते हैं। भारतीय आक्रमण का दारोमदार स्पिनरों पर होगा लेकिन धोनी उम्मीद करेंगे कि भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी गेल को फुल लैंग्थ गेंद ना डालें। भारतीय गेंदबाजों को ड्वेन स्मिथ जैसे आक्रामक बल्लेबाज से भी पार पाना होगा जो पावरप्ले में आक्रमण का माद्दा रखते हैं। ड्वेन ब्रावो और मलरेन सैमुअल्स भी बल्ले से आतिशबाजी में माहिर हैं।
भारतीय बल्लेबाजों को पाकिस्तान के खिलाफ छोटा लक्ष्य मिला था लेकिन सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और रोहित शर्मा एक बार फिर अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलने में नाकाम रहे। शॉर्टगेंदों के खिलाफ धवन की कमजोरी एक बार फिर उजागर हो गई जब उमर गुल ने उन्हें उम्दा बाउंसर पर पवेलियन भेजा। हुक शॉट खेलते हुए सही संतुलन नहीं बना पाने की कमजोरी का खामियाजा धवन को भुगतना पड़ रहा है। दूसरी ओर रोहित ने कुछ अच्छे शॉट खेले जिसमें गुल को लांगआन पर लगाया छक्का शामिल है। वह भी हालांकि सईद अजमल की ऑफ ब्रेक पर अपना विकेट गंवा बैठे।
विराट कोहली और सुरेश रैना के फार्म से धोनी काफी खुश होंगे। कोहली निर्णायक मौकों पर अच्छा प्रदर्शन करते आये हैं लेकिन रैना का फॉर्म भारत के लिए बोनस रहेगा। वनडे प्रारूप में खराब फार्म के बावजूद रैना पर भरोसा जताते रहने के लिए आलोचना झेलने वाले धानी को इससे राहत मिली होगी। रैना अभी तक दो अभ्यास मैचों में 41 और 54 के बाद पाकिस्तान के खिलाफ नाबाद 35 रन बना चुके हैं। वहीं युवराज सिंह का खराब फॉर्म चिंता का सबब है। उन्होंने एक ओवर में 13 रन दिए और नए गेंदबाज बिलावल भट्टी ने उन्हें बोल्ड किया।
कप्तान धोनी अंतिम एकादश में ज्यादा बदलाव के समर्थक नहीं है लिहाजा कल भी टीम में ज्यादा परिवर्तन की संभावना कम ही है। ऐसे में युवराज का पूरा टूर्नामेंट खेलना तय है क्योंकि उनके जैसे सीनियर खिलाड़ी को अंतिम एकादश में नहीं रखने का कोई मतलब नहीं होगा। यह देखना रोचक होगा कि भारतीय सुनील नारायण का सामना कैसे करेंगे। वैसे उसके सामने आक्रमण ही सर्वश्रेष्ठ रक्षण की रणनीति ही कामयाब होगी। धवन ने अजमल को एक ओवर में तीन चौके जड़ डाले थे जिसके बाद हफीज ने उसे गेंदबाजी से हटा दिया।
टीमें इस प्रकार हैं:-
भारत :- महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, सुरेश रैना, युवराज सिंह, अजिंक्य रहाणे, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, स्टुअर्ट बिन्नी, अमित मिश्रा, मोहित शर्मा, वरूण आरोन।
वेस्टइंडीज :- डेरेन सैमी (कप्तान), सैमुअल बद्री, ड्वेन ब्रावो, जोनाथन चार्ल्स, शेल्डन कोटरेल, आंद्रे फ्लेचर, क्रिस गेल, सुनील नारायण, दिनेश रामदीन, रवि रामपाल, आंद्रे रसेल, मलरेन सैमुअल्स, कृष्मार संतोकी, लैंडल सिमंस, ड्वेन स्मिथ।
मैच का समय: शाम सात बजे से।