टेस्ट सीरीज से पहले फॉर्म में लौटना चाहेगी टीम इंडिया

वनडे क्रिकेट में शर्मनाक हार के बद भारतीय क्रिकेट टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ कल से शुरू हो रहे दो दिवसीय अभ्यास मैच में उतरेगी तो उसका इरादा दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला से पहले खोया आत्मविश्वास हासिल करने का होगा।

वांगारेइ : वनडे क्रिकेट में शर्मनाक हार के बद भारतीय क्रिकेट टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ कल से शुरू हो रहे दो दिवसीय अभ्यास मैच में उतरेगी तो उसका इरादा दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला से पहले खोया आत्मविश्वास हासिल करने का होगा। वनडे सीरीज में 4-0 से मिली हार के बाद भारत को नंबर वन की रैंकिंग भी गंवानी पड़ी। महेंद्र सिंह धोनी की टीम इस हार को भुलाकर छह फरवरी से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज में उतरना चाहेगी।
भारतीय टीम के इस दौरे की शुरूआत पांच दिन के अभ्यास सत्रों के बाद हुई जिसमें धोनी एंड कंपनी ने नेपियर में मिली सुविधाओं का पूरा फायदा उठाया लेकिन मैदान पर वह मेहनत नजर नहीं आई। वांगारेइ भी उसी तरह का शांत कस्बा है और यहां टीम आत्ममंथन कर सकती है।
इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर भी भारतीय टीम वनडे सीरीज हार गई थी जहां गेंदबाज और बल्लेबाज बुरी तरह नाकाम रहे थे। उस दौरे पर भारत का अभ्यास मैच बेमौसम की बरसात के कारण रद्द हो गया था। दूसरी ओर यहां धूप खिली है और भारत को दो दिन का अभ्यास मिल जाएगा। दक्षिण अफ्रीका में अभ्यास नहीं मिलने के बावजूद वनडे सीरीज में मिली हार से उबरते हुए भारत ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज में बेहतर प्रदर्शन किया हालांकि दौरे के आखिरी दिन उसमें भी 1-0 से हार का सामना करना पड़ा।

भारत को पांच दिनी क्रिकेट की अलग जरूरतों और उनसे तालमेल बिठाने के बारे में सजग रहना होगा। भारतीय टीम लगभग वही है सिर्फ चार खिलाड़ी सुरेश रैना, स्टुअर्ट बिन्नी, अमित मिश्रा और वरूण आरोन स्वदेश लौटेंगे। चेतेश्वर पुजारा, मुरली विजय, जहीर खान, उमेश यादव और रिधिमान साहा के आने से टीम मजबूत होगी। वनडे सीरीज के दौरान धोनी ने खेल से परे रहकर उसके बारे में आत्ममंथन करने की बात कही थी और अब देखना यह है कि नियमित टेस्ट खिलाड़ी इस पर अमल करते हैं या नहीं। विजय, पुजारा और जहीर अच्छी शुरूआत करना चाहेंगे जबकि शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा का इरादा फार्म में लौटने का होगा ।
विराट कोहली को आराम दिये जाने पर अंबाती रायुडू खेल सकते हैं। तेज गेंदबाजों में जहीर खान और मोहम्मद शमी के साथ ईशांत शर्मा, उमेश यादव और भुवनेश्वर कुमार में से किसी को चुना जायेगा। यह टीम प्रबंधन द्वारा चुने गए संयोजन पर निर्भर करता है। एक स्पिनर की जगह रविंद्र जडेजा या आर अश्विन को मिल सकती है। जडेजा एक हरफनमौला होने के कारण मीलों आगे हैं लेकिन अश्विन ने भी बल्लेबाजी से प्रभावित किया है।
अब देखना है कि दोनों को अंतिम एकादश में मौका मिलता है या एक को बाहर रहना होगा। भारतीय गेंदबाजों के लिये यह अभ्यास मैच चुनौतीपूर्ण होगा क्योंकि रोजाना सौ ओवर फेंके जाने हैं और वनडे सीरीज तथा इस अभ्यास मैच के बीच काफी कम समय है। मेजबान टीम के लिए पीटर फुल्टन और हामिश रदरफोर्ड भारतीय गेंदबाजी का सामना कर चुके हैं। दोनों बल्लेबाजों ने बाद में प्लंकेट शील्ड टूर्नामेंट में अपनी घरेलू टीमों के लिए खेला। जॉर्ज वर्कर और रोबी ओडोनेल को टीम में शामिल किया गया है। टीम में तीन अंडर-19 खिलाड़ी ओडोनेल, टिम सेफर्ट और शॉन हिक्स हैं जो दुबई में इस महीने के आखिर में जूनियर विश्व कप खेलेंगे।
टीमें :-
भारत:- महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, अंबाती रायुडू, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, जहीर खान, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, ईश्वर पांडे, रिधिमान साहा।
न्यूजीलैंड एकादश:- एंटोन डेवसिच (कप्तान) , जार्ज वर्कर, रोबी ओडोनेल, जोनो हिकी, टिम सेइफर्ट, हेनरी वाल्श, जोनो बोल्ट, रोनाल्ड बी, लेन मैकपीके, लि टुगागा, टिपेने फ्राइडे, शान हिक्स।
मैच का समय:- सुबह तीन बजे से।

(एजेंसी)