खिलाड़ियों को हार का डर खत्म करने की जरूरत है: शाहिद अफरीदी

दोबारा पाकिस्तानी ट्वेंटी20 टीम के कप्तान नियुक्त किये जाने के बाद ऑल राउंडर शाहिद अफरीदी ने आज अपने खिलाड़ियों से हार के किसी भी ‘डर’ को खत्म करने और अपना ‘नैसर्गिक’ खेल खेलने का आग्रह किया।

खिलाड़ियों को हार का डर खत्म करने की जरूरत है: शाहिद अफरीदी

कराची : दोबारा पाकिस्तानी ट्वेंटी20 टीम के कप्तान नियुक्त किये जाने के बाद ऑल राउंडर शाहिद अफरीदी ने आज अपने खिलाड़ियों से हार के किसी भी ‘डर’ को खत्म करने और अपना ‘नैसर्गिक’ खेल खेलने का आग्रह किया।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा 2016 विश्व ट्वेंटी20 तक कप्तानी की जिम्मेदारी सौंपे जाने के बाद पहले संदेश में अफरीदी ने यहां पत्रकारों से कहा कि उनके लिये यह चुनौती होगी।

राष्ट्रीय टीम के लिये 381 वनडे और 74 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके अफरीदी ने कहा, लेकिन मैं खिलाड़ियों को मुख्य संदेश देना चाहता हूं कि उन्हें हार और असफलता के डर को खत्म करना होगा तथा अपना नैसर्गिक खेल दिखाना होगा। सीमित ओवरों का क्रिकेट आक्रामकता से जुड़ा है और हमारे खिलाड़ियों को इस रवैये को अपनाना होगा।

अफरीदी ने कहा, टी20 साहसिक खिलाड़ियों के लिये है और मुझे पूरा भरोसा है कि हमारी टीम में प्रतिभा है जिसे सिर्फ प्रेरित करने की जरूरत है। 34 वर्षीय अफरीदी ने 2010 और 2011 में वनडे और टी20 मैचों में पाकिस्तान की कप्तानी की थी लेकिन इसके बाद बोर्ड ने उन्हें हटा दिया था।

उन्होंने कहा कि फिर से कप्तानी की जिम्मेदारी दिये जाने से वह काफी खुश हैं। उन्होंने कहा, मैं बीते समय को कुरेदकर गहराई में नहीं जाना चाहूंगा। लेकिन जो कुछ हुआ, वह सभी जानते हैं और हर कोई जानता है कि बतौर कप्तान और खिलाड़ी मेरा प्रदर्शन क्या था।