Breaking News
  • जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के त्राल में 3 आतंकवादी मारे गए, सेना का सर्च ऑपरेशन जारी
  • चीन में कोरोना वायरस से 2000 लोगों की हुई मौत

विश्व मुक्केबाजी चै.: विकास, सुमित, सतीश क्वार्टर फाइनल में

भारत के तीन और मुक्केबाजों ने मंगलवार को विश्व चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया जिससे अंतिम आठ में पहुंचने वाले भारतीयों की संख्या पांच हो गई।

अलमाटी : भारत के तीन और मुक्केबाजों ने मंगलवार को विश्व चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया जिससे अंतिम आठ में पहुंचने वाले भारतीयों की संख्या पांच हो गई।
विकास मलिक (60 किलो), सुमित सांगवान (81 किलो) और सतीश कुमार (प्लस 91 किलो) से पहले शिवा थापा ( 56 किलो) और मनोज कुमार (64 किलो) क्वार्टर फाइनल में पहुंच चुके हैं।
भारतीय कोच गुरबख्श सिंह संधू ने कहा,‘‘ यह ऐतिहासिक प्रदर्शन है। हमने पदक जीते हैं लेकिन इस स्तर तक हम पहली बार पहुंचे हैं कि पांच भारतीयों ने क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है।’’ उन्होंने कहा,‘‘ यहां प्रशंसक भारतीय मुक्केबाजों का खड़े होकर अभिवादन कर रहे हैं। यह रोमांचक है और हम काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।’’
विकास ने आज पांचवीं वरीयता प्राप्त और 2008 के यूरोपीय चैम्पियनशिप रजत पदक विजेता मिकलोस वारगा को हरया। पहले दौर में पिछड़ने के बाद उसने शानदार वापसी करके जीत दर्ज की। अब उसका सामना पैन अमेरिकी खेलों के रजत पदक विजेता ब्राजील के रोबसन कोंसेइकाओ से होगा।
संधू ने कहा,‘‘ विकास सभी तीन दौर में अच्छा खेला। वह आक्रामक खेलना पसंद करता है। पहले दौर में बराबरी का मुकाबला था लेकिन दूसरे और तीसरे दौर में विकास छाया रहा।’’
सुमित ने भी अपने से मजबूत प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ शानदार खेल दिखाया। उसने आठवीं वरीयता प्राप्त बेलारूस के सियारहेइ नोविकाउ को 3-0 से मात दी। सुमित ने कहा ,‘‘ मैने अपना स्वाभाविक खेल दिखाया। मैने दूरी बनाये रखी और हर मौके पर उसे घूंसा लगाया।’’ अब उसे लंदन ओलंपिक के रजत पदक विजेता शीर्ष वरीयता प्राप्त कजाखस्तान के आदिलबेक नियाजिमबेतोव से खेलना है।
सतीश ने बेलारूस के यान सुदजिलोस्की को 3 -0 से हराया। (एजेंसी)