नक्सली हिंसा छोड़ें तो हम उन्हें गले लगाने को तैयार : रमन सिंह

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि यदि नक्सली हिंसा छोड़ते हैं तब उन्हें गले लगाने के लिए तैयार हैं।

रायपुर : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि यदि नक्सली हिंसा छोड़ते हैं तब उन्हें गले लगाने के लिए तैयार हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यहां बताया कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि नक्सल गतिविधियों में शामिल भटके हुए लोग वास्तव में इस विशाल राष्ट्र रूपी परिवार के अंग हैं। अगर वे हिंसा और आतंक छोड़कर समाज और देश की मुख्य धारा में शामिल होना चाहें तो हम उन्हें गले से लगाने के लिए तैयार रहेंगे।

मुख्यमंत्री आज नक्सल हिंसा प्रभावित बस्तर संभाग के मुख्यालय जगदलपुर में प्रसिद्घ बस्तर दशहरा के अवसर पर आदिवासी समाज के परम्परागत मुरिया दरबार को सम्बोधित कर रहे थे।

रमन सिंह ने इस अवसर पर नक्सलियों से लोकतंत्र और विकास की मुख्य धारा से जुड़ने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इन लोगों को अपनी अंतरात्मा से विचार करना चाहिए कि किसी भी समस्या का समाधान हिंसा अथवा बंदूक से नहीं हो सकता।

सिंह ने भटके हुए लोगों, विशेष रूप से युवाओं का आह्वान किया कि वे अपने घर-परिवार, समाज, राज्य और देश के हित में सोचे और हिंसा का रास्ता जल्द से जल्द छोड़ें। युवा अपनी ऊर्जा रचनात्मक कार्यो में लगाएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नक्सल समस्या के निदान के लिए हम सभी लोगों से सहयोग लेने को तैयार हैं।