close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रांची 'लव-जेहाद' मामले में नया खुलासा: रकीबुल ने तारा से शादी के बाद निकाह भी किया

झारखंड की राजधानी रांची में राष्ट्रीय शूटर तारा शाहदेव से धोखाधड़ी कर शादी करने और बाद में कथित तौर पर मारपीट कर उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव डालने के आरोपी रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हुसैन ने पूछताछ में कई अहम राज खोले हैं। गौर हो कि रकीबुल को कल दिल्ली-गाजियाबाद सीमा से गिरफ्तार किया गया था।

रांची 'लव-जेहाद' मामले में नया खुलासा: रकीबुल ने तारा से शादी के बाद निकाह भी किया

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो

रांची/नई दिल्‍ली : झारखंड की राजधानी रांची में राष्ट्रीय शूटर तारा शाहदेव से धोखाधड़ी कर शादी करने और बाद में कथित तौर पर मारपीट कर उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव डालने के आरोपी रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हुसैन ने पूछताछ में कई अहम राज खोले हैं। गौर हो कि रकीबुल को कल दिल्ली-गाजियाबाद सीमा से गिरफ्तार किया गया था।

पुलिस के सामने पूछताछ में उसने कई राज खोले हैं। एसएसपी के अनुसार, रंजीत सिंह कोहली हिंदू है और वह इस्‍लाम धर्म को भी मानता है। रंजीत का झुकाव मुस्लिम धर्म की तरफ है। दोनों (रंजीत और तारा) ने शादी के बाद निकाह भी किया। रंजीत को रकीब उल हसन नाम अच्‍छा लगा तो रख लिया।
 
पुलिस उससे उन तमाम बिंदुओं पर गंभीरता के साथ पूछताछ कर रही है कि क्या तारा शाहदेव की तरफ से लगाए गए आरोप सही है या नहीं। ताकि ये साफ हो सके कि लव जेहाद का मामला है या महज एक पारिवारिक विवाद। पुलिस सूत्रों के मुताबिक रंजीत कोहली ने पूछताछ में बताया है कि उसने और तारा ने पहले हिंदू धर्म से शादी की और फिर दो दिन बाद उन्होंने मुस्लिम तरीके से भी निकाह पढ़ा। पुलिस के मुताबिक पूछताछ में उसने बंधक बनाकर रखने की बात से भी इनकार किया है।

रकीबुल ने जांचकर्ताओं को यह भी बताया कि उसकी पत्‍नी यह जानती थी कि वह मुस्लिम है और उसने कभी तारा को अपना धर्म बदलने के लिए मजबूर नहीं किया। रकीबुल उर्फ रंजीत सिंह कोहली एक सिख के तौर पर जन्‍मा था लेकिन सात साल पहले उसने इस्‍लाम धर्म कबूल कर लिया था।

उसने दावा किया है कि वह अपनी मां के नाम पर कौशल्‍या बायोटेक इंस्‍टीट्यूट का संचालन करता था। वह एक हाई प्रोफाइल लाइजनिंग नेटवर्क भी चलाता था और कई सरकारी अधिकारियों, बिजनेसमैन, राजनीतिज्ञ और न्‍यायिक सेवा के कई अधिकारियों को जानता था।

नए खुलासों की वजह से इस केस में काफी पेंच फंसता जा रहा है। हालांकि यह अभी स्‍पष्‍ट नहीं है कि तारा शाहदेव का पति रंजीत कोहली था या रकीबुल हसन। वहीं, झारखंड के डीजीपी राजीव कुमार ने बताया कि रकीबुल उर्फ रंजीत ने कभी धर्म परिवर्तन नहीं किया। इस्लाम की तरफ केवल उसका झुकाव था। तारा के आरोप के तथ्यों की जांच हो रही है। ये सच है के रंजीत के कई बड़े नेताओं से संबंध थे।

गौर हो कि रांची के पुलिस उपमहानिरीक्षक प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि रंजीत उर्फ रकीबुल हुसैन को उसकी मां के साथ दिल्‍ली गाजियाबाद सीमा के पास एक होटल के पास से धर दबोचा गया। रंजीत 22 अगस्त को तारा शाहदेव द्वारा अपने खिलाफ मारपीट करने और जबरन धर्म परिवर्तन कराने कोशिश की पुलिस प्राथमिकी दर्ज कराये जाने के बाद अपनी मां के साथ दिल्ली भाग गया था।