close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सुपर 30 के संस्थापक गणितज्ञ आनंद कुमार ने कहा, 'शिक्षकों का कोई विकल्प नहीं'

सुपर 30 के संस्थापक एवं भारतीय गणितज्ञ आनंद कुमार का कहना है कि शिक्षकों का ‘कोई विकल्प नहीं’ है और ऐसा माहौल उत्पन्न किए जाने की आवश्यकता है जिससे शिक्षकों को इस पेशे में सर्वश्रेष्ठ देने के लिए सम्मान और मान्यता मिले।

सुपर 30 के संस्थापक गणितज्ञ आनंद कुमार ने कहा, 'शिक्षकों का कोई विकल्प नहीं'

वॉशिंगटन : सुपर 30 के संस्थापक एवं भारतीय गणितज्ञ आनंद कुमार का कहना है कि शिक्षकों का ‘कोई विकल्प नहीं’ है और ऐसा माहौल उत्पन्न किए जाने की आवश्यकता है जिससे शिक्षकों को इस पेशे में सर्वश्रेष्ठ देने के लिए सम्मान और मान्यता मिले।

वर्ष 2002 में पटना में शुरू हुए सुपर 30 के संस्थापक कुमार ने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी की स्टैनफोर्ड इंडिया एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में रेखांकित किया कि विश्व के हर कोने में शिक्षा का प्रकाश फैलाने के लिए अधिक से अधिक संख्या में सक्षम शिक्षकों की नियुक्ति करने की आवश्यकता है। यह कार्यक्रम विश्व शिक्षक दिवस के अवसर पर आयोजित किया गया।

कुमार ने कहा, शिक्षकों के प्रति समर्थन व्यक्त करने और यह सुनिश्चित करने के लिए कि शिक्षक भविष्य की पीढ़ियों की जरूरतों को पूरा कर पाएं ,हर साल पांच अक्टूबर को विश्व शिक्षक दिवस मनाया जाता है। किसी भी पीढ़ी के लिए पहली और मुख्य आवश्यकता ज्ञान की होती है और यह केवल शिक्षकों के जरिए मिलता है। शिक्षकों का कोई विकल्प नहीं है (और इस संदर्भ में) यह बात मायने नहीं रखती कि हम धरती के किस कोने में रहते हैं। साल 2002 में स्थापित सुपर 30 हर साल समाज के आर्थिक रूप से कमजोर तबके के 30 मेधावी और प्रतिभाशाली उम्मीदवारों को चुनता है तथा उन्हें आईआईटी-जेईई का प्रशिक्षण देता है।

यह उल्लेख करते हुए कि शिक्षक दिवस मात्र औपचारिकता नहीं है, कुमार ने कहा, इससे ऐसा माहौल बनाने में मदद मिलनी चाहिए जिसमें शिक्षकों को वह सम्मान और मान्यता मिले जिसके वे समाज से इस पवित्र पेशे को अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए हकदार हैं।