ब्रिक्स देश जी-20 सम्मलेन में पुतिन के भाग लेने पर रोक के खिलाफ

भारत, ब्राजील, चीन और दक्षिण अफ्रीका ने क्रीमिया मुद्दे को लेकर इस साल आस्ट्रेलिया में होने वाले समूह-20 शिखर सम्मेलन में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के भाग लेने पर किसी प्रकार के प्रतिबंध का आज विरोध किया।

नई दिल्ली : भारत, ब्राजील, चीन और दक्षिण अफ्रीका ने क्रीमिया मुद्दे को लेकर इस साल आस्ट्रेलिया में होने वाले समूह-20 शिखर सम्मेलन में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के भाग लेने पर किसी प्रकार के प्रतिबंध का आज विरोध किया।
ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) देशों ने आस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री जूली बिशप के उस बयान पर चिंता जतायी है जिसमें कहा गया है कि नवंबर में होने वाले समूह-20 बैठक में पुतिन को भाग लेने से रोका जा सकता है। यह मुद्दा क्रीमिया को यूक्रेन से अलग कर रूस में शामिल किए जाने को लेकर पैदा हुआ है।
ब्रिक्स ने एक बयान में कहा कि मंत्रीगण नवंबर में ब्रिसबेन में होने वाले समूह.20 सम्मेलन पर हालिया बयान पर चिंता व्यक्त करते हैं। ब्रिक्स देशों के मंत्रियों ने हेग, नीदरलैंड में परमाणु सुरक्षा सम्मेलन से इतर मुलाकात की। इसमें भारत का प्रतिनिधित्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने किया। भारत ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि रूसी सरकार के खिलाफ किसी एकतरफा कदम का वह समर्थन नहीं करेगा। (एजेंसी)