भारतीय मूल के लोग अपने सोच में बदलाव लाएं : महेंद्र चौधरी

भारतीय मूल के फीजी के पूर्व प्रधानमंत्री महेंद्र पी चौधरी ने भारतीय मूल के लोगों से सफलता की कहानियों के बहकावे और ‘हर जगह सब कुछ ठीक है’ जैसे सोच से बचने का आग्रह किया है।

मेलबर्न : भारतीय मूल के फीजी के पूर्व प्रधानमंत्री महेंद्र पी चौधरी ने भारतीय मूल के लोगों से सफलता की कहानियों के बहकावे और ‘हर जगह सब कुछ ठीक है’ जैसे सोच से बचने का आग्रह किया है। सिडनी में कल आयोजित सातवें क्षेत्रीय प्रवासी भारतीय दिवस (पीबीडी) में अपने भाषण के दौरान चौधरी ने यह बातें कही।
उन्होंने कहा, भारतीय मूल के लोगों को कुछ क्षेत्रों की सफलता की कहानियों से भ्रमित होकर यह नहीं सोचना चाहिए कि हर जगह सब कुछ ठीक है। उन्होंने कहा कि पीबीडी जैसा भारतीय प्रवासियों का सम्मेलन इस क्षेत्र में भारतीय मूल के अन्य लोगों से जुड़ने और आपसी हित से जुड़े मुद्दों पर भारतीय प्रतिनिधियों से चर्चा करने और उनसे घुलने मिलने का एक स्वागत योग्य अवसर है।
चौधरी ने कहा, यह हमारे क्षेत्र के बढ़ते महत्व की जागरूकता को दर्शाता हैं और मैं उम्मीद करता हूं कि यह संकेत देता है कि भारत प्रशांत क्षेत्र में अपनी मौजूदगी बढ़ाने और मजबूत करने का इच्छुक है। एशिया प्रशांत क्षेत्र में एक शक्तिशाली देश के तौर पर भारत का आर्कषण उसकी गुटनिरपेक्षता, उसकी प्रजातांत्रिक शासन और मानव मूल्यों एवं स्वतंत्रता को बरकरार रखने वाले मूल्यों के पालन की उसकी लंबी संस्कृति में विद्यमान है। (एजेंसी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.