मादुरो ने ओबामा को दी ‘उच्च स्तरीय’ वार्ता की चुनौती

वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने अपने अमेरिकी समकक्ष बराक ओबामा को दोनों सरकारों के बीच ‘उच्च स्तरीय वार्ता’ कराने की चुनौती दी है।

काराकस : वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने अपने अमेरिकी समकक्ष बराक ओबामा को दोनों सरकारों के बीच ‘उच्च स्तरीय वार्ता’ कराने की चुनौती दी है। इसके साथ ही उन्होंने वाशिंगटन में एक राजदूत नियुक्त करने का प्रस्ताव भी दिया है। कल अचानक की गई यह घोषणा इसलिए भी हैरान कर देने वाली थी क्योंकि वाशिंगटन और काराकस के बीच संबंध मादुरो के पूर्ववर्ती दिवंगत ह्यूगो शावेज के कार्यकाल में खराब हो गए थे। दोनों देशों के संबंध मार्च 2013 में शावेज के निधन के बाद और भी खराब हुए हैं।
मादुरो ने विदेशी संवाददाताओं ये कहा, ‘राष्ट्रपति ओबामा, मैं आपके साथ, देशभक्त व क्रांतिकारी वेनेजुएला व अमेरिका की सरकार के बीच वार्ता के लिए आमंत्रण देता हूं। इस चुनौती को स्वीकार करें और हम एक उच्चस्तरीय वार्ता शुरू करके सच्चाई को वार्ता की मेज पर रखेंगे।’ मादुरो ने विभिन्न देशों के बीच उन मतभेदों का हवाला दिया जो विपक्ष के विरोध प्रदर्शनों के बाद गहराए हैं। कम से कम आठ लोग इस हिंसा में मारे जा चुके हैं।
वेनेजुएला की सरकार का अमेरिका पर आरोप है कि उसने इनके देश में सत्तांतरण की साजिश रची। वेनेजुएला सरकार का दावा है कि विपक्ष के नेता वाशिंगटन के इशारे पर चलते हैं। मादुरो ने कहा, ‘अमेरिकी एजेंसियों ने संभवत: उस सरकार को गिराने की अनुमति दी थी जिसका नेतृत्व मैं कर रहा हूं।’ मादुरो ने ओबामा से अपील की कि वे ‘कम से कम लातिनी अमेरिका व कैरिबियाई क्षेत्र में अपनी नीति में बदलाव लाएं।’ मादुरो ने कहा कि वे विदेश मंत्री इलियास जाउआ को अमेरिका के साथ बातचीत के लिए नियुक्त करेंगे। उन्होंने ओबामा से कहा कि वह अपने विदेश मंत्री जॉन कैरी या किसी अन्य व्यक्ति को नियुक्त कर सकते हैं। (एजेंसी)