close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

छत्तीसगढ़: इस गांव में स्कूली बच्चे खेलते हैं KBC, हॉट सीट पर होती हैं देश-दुनिया की बातें

स्कूल ने शो का नाम कौन बनेगा चैंपियन रखा है. इस शो का मकसद किताबी ज्ञान के अलावा देश दुनिया की गतिविधियों के प्रति बच्चों को जागरूक करना है. 

छत्तीसगढ़: इस गांव में स्कूली बच्चे खेलते हैं KBC, हॉट सीट पर होती हैं देश-दुनिया की बातें
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले का महात्मा गांधी हायर सेकेंडरी स्कूल इन दिनों चर्चा में है. चर्चा इस स्कूल में आयोजित एक गेम शो को लेकर हो रही है, जो मशहूर शो कौन बनेगा करोड़पति की तर्ज पर बच्चों के लिए स्कूल ने प्रतियोगिता आयोजित करता है. स्कूल ने शो का नाम कौन बनेगा चैंपियन रखा है. इस शो का मकसद किताबी ज्ञान के अलावा देश दुनिया की गतिविधियों के प्रति बच्चों को जागरूक करना है. कोंडागांव के इस स्कूल का ये प्रयोग अगर अन्य स्कूलों में भी लागू कर दिया जाए तो बच्चों के विकास में ये अहम भूमिका निभा सकता है.

हर शनिवार को आयोजित होने वाली इस प्रतियोगिता में बच्चों को बैग और किताबें लाने की मनाही होती है. स्कूल की तरफ से सबसे पहले एक परीक्षा होती है, जिसमें सभी बच्चों को भाग लेने का मौका मिलता है. इस परीक्षा के जरिए सर्वश्रेष्ठ पांच बच्चों को चुना जाता है. इसके बाद इन पांच बच्चों के बीच फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट खेला जाता है, जिसमें जीतने वाला बच्चा हॉट सीट पर बैठता है. लैपटॉप और प्रोजेक्टर की मदद से बच्चे के सामने सवाल आते हैं और उसके चार विकल्प भी होते हैं. बच्चे को मदद के लिए चार लाइफलाइन भी मिलती है.

ये वीडियो भी देखें:

छत्तीसगढ़: बच्चों की पढ़ाई को लगा 'रोग', तबादला होते ही 'टीचर' पड़े बीमार

स्कूल प्रबंधन की तरफ से बीच-बीच में अन्य बच्चों से भी सवाल पूछे जाते है ताकि अन्य बच्चों की रुचि भी गेम में बनी रहे. जीतने वाले छात्रों को स्कूल प्रबंधन की तरफ से पुरस्कार भी दिए जाते हैं. स्कूल में होने वाली इस प्रतियोगिता में बच्चे बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं. साथ ही शिक्षक भी बच्चों को पुरस्कार देने के लिए खुद ही चंदा इकट्ठा करते हैं. बच्चे स्कूल की इस पहल से बेहद खुश हैं और इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए सामान्य ज्ञान की तैयारी करने में जुटे रहते हैं. ये गेम शो बच्चों का मनोबल बढ़ाने में भी काम आ रहा है.